--Advertisement--

ईवीएम हैकिंग / पुलिस में नौकरी, स्कूल में प्रवेश और विधानसभा का टिकट दिलाने के नाम पर भी ठगी कर चुका है नीरज



नीरज राठौर नीरज राठौर
X
नीरज राठौरनीरज राठौर

Dainik Bhaskar

Dec 07, 2018, 04:09 AM IST

ग्वालियर. विधानसभा चुनाव में भिंड के कांग्रेस प्रत्याशी रमेश दुबे को ईवीएम हैक करने के नाम पर ठगने की कोशिश करने वाला नीरज राठौर कई वारदात कर चुका है। वह कांग्रेसियों को विधानसभा चुनाव के टिकट के लिए सर्वे में आगे करने के नाम पर भी ठग चुका है।

 

इस संबंध में एक कांग्रेस नेता ने ग्वालियर में जीआरपी थाने में गुरुवार को शिकायत भी की। ठग पर उज्जैन में पुलिस में नौकरी के नाम पर महिला को व स्कूल में प्रवेश के नाम पर भी अन्य लोगों को ठगने के मामले दर्ज हैं। यह मामले आरोपी ने पूछताछ में कुबूल कर लिए हैं।

 

पड़ाव थाने में पकड़े गए ठग की शिकायत लेकर गुरुवार को कांग्रेस नेता काशीराम देहलवार भी पड़ाव थाने पहुंचे। उन्होंने पुलिस को बताया कि आरोपी नीरज लगभग डेढ़ माह पहले उनसे मिला था और खुद को कांग्रेस पीसीसी का सर्वेयर बताकर बायोडेटा मांगा था। बायोडाटा लेने के बाद आरोपी ने सर्वे में विधानसभा टिकट की दावेदारी में उनका नाम आगे करने के नाम पर 10 हजार रुपए स्टेशन के वेटिंग रूम में लिए थे। रुपए वेटिंग रूम में दिए जाने के कारण पड़ाव पुलिस ने काशीराम को जीआरपी थाने भेज दिया।

 

डीएसपी डीवीएस भदौरिया ने बताया कि काशीराम की शिकायत पर जांच की जा रही है। इस संबंध में पूछताछ में आरोपी ने कांग्रेस के भीकम सिंह, साहब सिंह से भी 15 हजार रुपए की ठगी करना कुबूल किया है। आरोपी के पिता पुलिस से सेवानिवृत्त हैं। नीरज द्वारा किसी व्यक्ति के साथ 18 लाख रुपए की ठगी की सूचना भी पुलिस तक पहुंची है, जिसकी पुलिस तस्दीक कर रही है। 

 

एएसपी पंकज पांडे ने बताया कि नीरज सीजन के अनुसार ठगी करता था। उसने उज्जैन में पुलिस भर्ती के दौरान युवती निधि कुशवाह को पुलिस में नौकरी पक्की कराने का झांसा देकर उससे 4.50 लाख रुपए ठग लिए थे। इसी तरह  सेंटमेरी स्कूल में प्रवेश कराने के नाम पर सेवानिवृत्त निरीक्षक योगेंद्र कुशवाह से 42 हजार रुपए ठगने का मामला दर्ज किया गया है।

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..