Hindi News »Madhya Pradesh »Gwalior» मेघोना गांव में पीने के पानी का संकट

मेघोना गांव में पीने के पानी का संकट

तीन हजार की आबादी वाले गांव के लोग पानी के लिए भटक रहे हैं भास्कर संवाददाता बदरवास। जनपद के मेघोना गांव के आधा...

Bhaskar News Network | Last Modified - May 02, 2018, 02:00 AM IST

तीन हजार की आबादी वाले गांव के लोग पानी के लिए भटक रहे हैं

भास्कर संवाददाता बदरवास।

जनपद के मेघोना गांव के आधा दर्जन हैंडपंप पिछले एक माह से खराब है, जिन्हें शिकायत के बाद भी पीएचई विभाग द्वारा दुरुस्त नहीं किया जा रहा। ग्रामवासी पीने के पानी के लिए इधर-उधर भटक रहे हैं। पीड़ित ग्रामवासियों का कहना है कि बस्ती के हैंडपंपों के खराब होने से तीन हजार आबादी वाले गांव में पीने के पानी की भारी किल्लत है। लोगों को पानी के लिए रोज दूर-दराज के ग्रामों तक की भागदौड़ करनी पड़ रही है। ग्रामवासी लल्लू , देवेंद्र सिंह तथा लखनलाल आदि ने बताया कि मेघोना गांव में कहने को तो दस हैंडपंप है, जिनमें छह हैंडपंप पूरी तरह से बंद पड़े हैं। शेष पांच हैंडपंपों में भी पानी कम रह गया है जहां रात दिन पानी भरने वालों की भीड़ लगी रहती है। पानी के लिए यहां लड़ाई झगड़े होना भी आम बात हो गई है, जिसे पर किसी भी जिम्मेदार ने अब तक ध्यान नहीं दिया है। खराब पड़े हैंडपंपों को दुरुस्त करने के लिए पीएचई विभाग के अधिकारियों को कई बार अवगत कराया, लेकिन गांव वालों की समस्या पर आज तक किसी ने भी ध्यान नहीं दिया है।

ध्यान नहीं दे रहे पीएचई के अधिकारी

हैंडपंपों को दुरुस्त कराने मैंने पीएचई के अधिकारियों से बात की है लेकिन खराब पड़े हैंडपंपों ठीक नहीं किया गया है। गांव में पानी की समस्या लगातार बढ़ती जा रही है। नरेंद्र सिंह यादव, सरपंच मेघोना बड़ा

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Gwalior

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×