• Hindi News
  • Mp
  • Gwalior
  • दोनों गवाहों ने कहा- घटना के दिन हम शहर में ही नहीं थे
--Advertisement--

दोनों गवाहों ने कहा- घटना के दिन हम शहर में ही नहीं थे

ग्वालियर | शहर के बहुचर्चित हिरण्यवन कोठी डकैती कांड में गुरुवार को भी दो गवाहों ने बयान दर्ज कराए। पूर्व मंत्री...

Dainik Bhaskar

May 18, 2018, 04:20 AM IST
दोनों गवाहों ने कहा- घटना के दिन हम शहर में ही नहीं थे
ग्वालियर | शहर के बहुचर्चित हिरण्यवन कोठी डकैती कांड में गुरुवार को भी दो गवाहों ने बयान दर्ज कराए। पूर्व मंत्री ध्यानेंद्र सिंह ने न्यायालय को बताया कि जिस दिन यह घटना हुई थी, उस दिन वह ग्वालियर से बाहर गए हुए थे। वहीं इस मामले के एक अन्य गवाह वीरेंद्र सिंह यादव ने भी शहर से बाहर होने की बात कही। हालांकि उन्होंने ये भी कहा कि न्यायालय कक्ष में उपस्थित सभी आरोपियों को वे जानते हैं। अब तक इस मामले में कुल 4 गवाहों के बयान हो चुके हैं लेकिन किसी ने भी घटना होने की पुष्टि नहीं की है। अभियोजन पक्ष की ओर से ध्यानेंद्र सिंह के बयान के बाद परीक्षण कराए बिना साक्ष्य से मुक्त करने के लिए आवेदन पेश किया, जिसे न्यायालय ने स्वीकार कर लिया। शासन की ओर से अपर लोक अभियोजक जागेश्वर सिंह भदौरिया ने पैरवी की।

हिरणवन कोठी मामला

कुर्की की कार्रवाई को कोर्ट ने सही माना

ग्वालियर | विशेष न्यायालय ने कलेक्टर ग्वालियर के उस आवेदन को स्वीकार कर लिया, जिसमें कुर्की के आदेश को मंजूर करने की मांग की गई थी। विशेष न्यायाधीश अभय कुमार ने अपने आदेश में कहा कि चिटफंड कंपनी स्काई लार्क डेवलपर्स एंड इंफ्रास्ट्रक्चर इंडिया लिमिटेड ने नियम विरुद्ध तरीके से लोगों से पैसे जमा कराने का काम किया। न्यायालय के इस आदेश के बाद कंपनी में निवेश करने वाले निक्षेपकों को जमा कराई गई राशि वापस मिल सकेगी। प्रकरण की जानकारी देते हुए लोक अभियोजक जगदीश शर्मा ने बताया कि पूर्व में कलेक्टर ग्वालियर से शिकायत की गई थी कि माल रोड, मुरार स्थित गंगा कॉम्प्लेक्स में दिलीप जैन, भारतीय रिजर्व बैंक के नियमों का उल्लंघन कर पैसे जमा करा रहे हैं।

X
दोनों गवाहों ने कहा- घटना के दिन हम शहर में ही नहीं थे
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..