• Home
  • Mp
  • Gwalior
  • कांग्रेसियों को बुलाकर आराम करते रहे प्रभारी मंत्री, 40 मिनट बाद लिया ज्ञापन
--Advertisement--

कांग्रेसियों को बुलाकर आराम करते रहे प्रभारी मंत्री, 40 मिनट बाद लिया ज्ञापन

प्रशासनिक रिपोर्टर | ग्वालियर मप्र के किसान कल्याण एवं ग्वालियर के प्रभारी मंत्री गौरीशंकर बिसेन को शहर की...

Danik Bhaskar | May 18, 2018, 04:20 AM IST
प्रशासनिक रिपोर्टर | ग्वालियर

मप्र के किसान कल्याण एवं ग्वालियर के प्रभारी मंत्री गौरीशंकर बिसेन को शहर की समस्याओं के संबंध में ज्ञापन देने पहुंचे कांग्रेस नेताओं को आधे घंटे से ज्यादा इंतजार करना पड़ा। श्री बिसेन ने कांग्रेस नेताओं को गुरुवार सुबह 8 बजे मुलाकात का समय दिया था। कांग्रेस के 60 से अधिक नेता तय समय पर मुरार स्थित वीआईपी सर्किट हाउस पहुंच गए। लेकिन प्रभारी मंत्री के स्टाफ ने बताया कि श्री बिसेन अभी सो रहे हैं, इसलिए इंतजार करना पड़ेगा। यह इंतजार 8 बजकर 40 मिनट तक चला। तब प्रभारी मंत्री कमरे से बाहर आए अौर कांग्रेस नेताओं से ज्ञापन लिया।

इस ज्ञापन में पूर्व विधायक रमेश अग्रवाल ने बताया कि स्मार्ट सिटी के नाम पर कागजों में योजना बन रही है। धरातल पर कोई काम नहीं किया जा रहा। स्वर्ण रेखा नाले को सुधारने के नाम पर भाजपा सरकार के मंत्री-अधिकारियों ने करोड़ों रुपए का घोटाला किया है, उसकी जांच कराई जाए। झावेरी मार्केट में अग्निकांड के पीड़ित दुकानदारों को 5-5 लाख रुपए मुआवजा दिलाया जाए। चंबल नदी से ग्वालियर तक पानी लाया जाए, ताकि जलसंकट का समाधान हो। बिजली कटौती बंद कराई जाए और पेट्रोल-डीजल पर राज्य सरकार टैक्स घटाए। साथ ही ग्वालियर व्यापार मेले को पहले के भव्य स्वरूप में वापस लाया जाए और शहर की ट्रैफिक व्यवस्था को सही करने के लिए सिटी बसें चलाई जाएं। प्रभारी मंत्री ने ज्ञापन लेते हुए कहा कि मैं आपकी मांग सरकार तक पहुंचा दूंगा। ज्ञापन देने वालों में रामवरण सिंह गुर्जर, प्रद्युम्न सिंह तोमर, सुरेंद्र शर्मा, लतीफ खां, विद्यादेवी कौरव, किरन खेनवार, उदल सिंह, देवेेंद्र पाठक, महाराज सिंह पटेल, शीतल अग्रवाल, रघुराज राजपूत, संजय शर्मा, अशोक प्रेमी व वीरेंद्र तोमर आदि मौजूद थे।

आप महिला सुरक्षा की बात करते हो, पुलिस सुन नहीं रही: मप्र किसान कांग्रेस की पूर्व प्रदेश सचिव किरन खेनवार ने प्रभारी मंत्री श्री बिसेन का रास्ता रोकते हुए सर्किट हाउस में कहा कि आप और आपकी सरकार महिला सुरक्षा की बातें भाषणों में करते हो। लेकिन कभी जमीनी हकीकत भी पता करनी चाहिए। पुलिस थानों में पीड़ित महिलाओं की सुनवाई नहीं हो रही। पुलिस महिलाओं की शिकायत दर्ज करने और कार्रवाई करने की जगह उन्हें भगा देती है।

भाजपा के महामंत्री ने कहा-एक बाबू हमारी सरकार पर है भारी: भाजपा के जिला महामंत्री महेश उमरैया ने प्रभारी मंत्री श्री बिसेन को सर्किट हाउस में अपने लेटरहेड पर कलेक्टोरेट में पदस्थ बाबू रविंद्र सिंह राजपूत को वहां से हटाने की मांग की। श्री उमरैया ने कहा कि यह बाबू हम लोगों की या दूसरों की बात नहीं सुनता। सिर्फ अपनी मर्जी से काम कर रहा है, जबकि हम सरकार के लोग हैं। इसलिए इन्हें ग्वालियर जिले से हटाकर कहीं दूसरी जगह पदस्थ किया जाए। साथ ही श्री उमरैया ने औषधि संयोजक राकेश सिंह को ग्वालियर कलेक्टोरेट में पदस्थ कराने के लिए पत्र दिया।

शहरवासियों की समस्याओं को लेकर प्रभारी मंत्री को ज्ञापन सौंपते कांग्रेस नेता।

मंत्री माया सिंह व नारायण सिंह आज से शुरू करेंगे विकास यात्रा

ग्वालियर|
मप्र की नगरीय विकास मंत्री माया सिंह और नवीन व नवकरणीय ऊर्जा मंत्री नारायण सिंह कुशवाह अपने निर्वाचन क्षेत्र में शुक्रवार से विकास यात्रा शुरू करेंगे। माया सिंह शाम 6 बजे दीनदयाल नगर स्थित महाराजा काॅप्लेक्स से विकास यात्रा शुरू करेंगी। वहीं श्री कुशवाह सुबह 7 बजे बिरगैयो का पुरा से विकास यात्रा की शुरुआत करेंगे।

पूर्व विधायक प्रद्युम्न सिंह ने शुरू किया उपवास

ग्वालियर|
कांग्रेस के पूर्व विधायक प्रद्युम्न सिंह तोमर ने गुरुवार को 24 घंटे का उपवास शुरू किया। यह उपवास शुक्रवार सुबह 9 बजे तक चलेगा। इस मौके पर श्री तोमर ने कहा, जनता अपना वोट देकर प्रतिनिधि को चुनती है व जनप्रतिनिधि से अपेक्षा रखती है कि परेशानियों के समय में वे उनकी समस्याओ का निदान करें। लेकिन उच्च शिक्षा मंत्री जयभान सिंह पवैया उनकी बात तक सुनने को तैयार नही होते। उपवास पर देवेंद्र राठौर, रमेश कुशवाह, राजेश चौहान, बटोई राजावत, विजय भवानी और राकेश छापरिया बैठे हैं। इस मौके पर रमेश अग्रवाल, रामबरन सिंह, सुरेंद्र शर्मा, गुरुमुख करोसिया, ध्रुव गौतम, ब्रजराज तोमर और राजेन्द्र रैनिया आदि मौजूद थे।