• Home
  • Mp
  • Gwalior
  • गर्मी में खेत की जुताई कर खाली छोड़ दें
--Advertisement--

गर्मी में खेत की जुताई कर खाली छोड़ दें

खंडवा | खरीफ की फसल को कीट और कीड़ों से बचाना है और अच्छी उत्पादकता कायम रखनी है, तो खेत की अप्रैल में एक बार जुताई...

Danik Bhaskar | Apr 17, 2018, 04:00 AM IST
खंडवा | खरीफ की फसल को कीट और कीड़ों से बचाना है और अच्छी उत्पादकता कायम रखनी है, तो खेत की अप्रैल में एक बार जुताई करें। इस दौरान पड़ने वाली गर्मी और बढ़ते तापमान से खेत में मौजूद हानिकारक कीट और कीड़ों के साथ सूत्रकृमियों का प्रभाव काफी हद तक कम हो जाएगा। सिंचित क्षेत्र में रबी की फसल की कटाई के तुरंत बाद इस प्रक्रिया को प्राथमिकता से करना चाहिए, ताकि इसके अवशेष जमीन में समा जाएं और खाद के समान काम करें। यह न सिर्फ खरीफ की बाजरा, मूंग, मोठ और तिल-मूंगफली की फसल के लिए उपयोगी होगा, बल्कि यह उद्यानिकी से जुड़ी फल-सब्जी की फसल के लिए भी उपयोगी होगा। कृषि विशेषज्ञों के अनुसार अप्रैल में खेत की जुताई करना खेत को नयापन देने के समान होता है।