पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

भानजी से दुष्कर्म करने वाले मामा को आजीवन कारावास, 10 हजार जुर्माना भी

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
Advertisement
Advertisement

भिंड। षष्ठम अपर सत्र न्यायाधीश ने नाबालिग भांजी के साथ दुष्कर्म करने वाले मामा गंगासेवक शर्मा (63) पुत्र पातीराम शर्मा निवासी विरगवां को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। साथ ही 10 हजार रुपए का अर्थदंड लगाया है। अर्थदंड की राशि 10 हजार रुपए अपील अवधि के बाद बतौर क्षतिपूर्ति पीड़िता को अदा किए जाने के आदेश भी न्यायालय ने दिया है। 

 

एडीपीओ इंद्रेश कुमार प्रधान ने बताया कि 13 सितंबर 2017 को पीड़िता ने थाना गोरमी रिपोर्ट दर्ज कराई कि उसकी मां ने दूसरी शादी कर ली है। वह अतरसौहा की रहने वाली हूं। 18 जुलाई 2017 को किशोरी के पिता उसे उसके मामा गंगासेवक शर्मा निवासी विरगवां के यहां रहने के लिए छोड़ गए। जहां मामा गंगासेवक शर्मा ने उसके साथ दुष्कर्म किया। 


03 अगस्त 2017 को गंगासेवक शर्मा ने मुझे मेरी दादा- दादी के पास ग्वालियर में छोड़ दिया। कुछ दिन बाद गंगासेवक शर्मा ने अपनी भांजी को दादा के घर से लाकर विनोद तिवारी निवासी मेहदोल के यहां पर छोड़ दिया, फिर गोरमी के कल्याणपुरा रोड स्थित किराये के मकान में 09 सितंबर 2017 की रात को विनोद तिवारी ने उसके साथ छेड़छाड़ की। तब दूसरे दिन वह चुपचाप वहां से भाग गई और दादा- दादी के पास ग्वालियर गोले का मंदिर पहुंची और पूरी घटना की जानकारी दी।

 
ऐसे में गोरमी पुलिस आरोपी गंगासेवक शर्मा के विरूद्ध केस दर्ज किया गया। साथ ही प्रकरण न्यायालय में भेजा। जहां षष्ठम अपर सत्र न्यायाधीश ने गंगासेवक को दोषी मानते हुए उसे आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। प्रकरण में अभियोजन का संचालन एडीपीओ बीएल शर्मा ने किया। 

Advertisement
0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज आप कई प्रकार की गतिविधियों में व्यस्त रहेंगे। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। कहीं से मन मुताबिक पेमेंट आ जाने से मन में राहत रहेगी। धार्मिक संस्थाओं में सेवा संबंधी कार्यों में महत्वपूर्ण...

और पढ़ें

Advertisement