--Advertisement--

विधानसभा चुनाव / आयोग की मंजूरी के बिना ग्रामीण विधानसभा की वोटर लिस्ट से नहीं हटेगा मंत्री माया सिंह का नाम



Minister maya singh name not be deleted from voter list without approval
X
Minister maya singh name not be deleted from voter list without approval
  • वोटर लिस्ट में नाम जोड़ने और घटाने पर लगी है रोक, नहीं हो पाे रहे जरूरी संशोधन

Dainik Bhaskar

Oct 13, 2018, 03:55 AM IST

ग्वालियर.  वोटर लिस्ट के अंतिम प्रकाशन के बाद अब स्थानीय अधिकारी न तो किसी वोटर का नाम जोड़ सकेंगे, न ही हटा सकेंगे। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी की इस रोक के कारण ग्वालियर ग्रामीण विधानसभा से मंत्री माया सिंह सहित कई वोटरों के नाम हटाने की प्रक्रिया रुक गई है। उल्लेखनीय है कि अंतिम प्रकाशन के तत्काल बाद पोर्टल बंद होने से यह काम बंद हो गया है। चूंकि अफसरों को पोर्टल खुलने की उम्मीद है, इसलिए मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने पोर्टल खुलने पर नाम हटाने-जोड़ने पर रोक लगा दी है। कांग्रेस नेता मुन्नालाल गोयल की शिकायत की जांच के बाद मंत्री माया सिंह सहित कुछ अन्य विधानसभाओं से ऐसे वोटरों के नाम हटना है जिनके नाम दो जगह लिखे हैं। 


गत दिवस अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी संदीप यादव ने जिलास्तर पर नाम जोड़ने हटाने की कार्रवाई पर रोक लगा दी है। वोटर लिस्ट के 27 सितंबर को अंतिम प्रकाशन के बाद लिस्ट को अद्यतन करने की प्रक्रिया तो जारी रहेगी पर मंजूरी के बाद। उन्होंने कहा है कि ऐसे मामलों में नोटिस देने की समय सीमा तय है। इसलिए नामांकन भरने के अंतिम दिन से दस दिन पहले फॉर्म लेने की प्रक्रिया बंद करनी होगी। निर्वाचन वर्ष में अब ऐसे प्रकरणों की सूची जिला निर्वाचन अधिकारी के माध्यम से मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को भेजी जाएगी। इसके बाद भारत निर्वाचन आयोग से मंजूरी के बाद निर्णय लिया जाएगा। 
 

आपराधिक मामलों की जानकारी होगी सार्वजनिक : यह पहला मौका है जब प्रत्याशी और पार्टी को अापराधिक मामलों की सूचना सार्वजनिक करनी होगी। सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद हर प्रत्याशी अपने ऊपर दर्ज प्रकरण या फिर किसी प्रकरण में दोष सिद्ध होने की सूचना टिकट देने वाले दल को देगा। पार्टी इसे अपनी बेवसाइट पर डालेगी। नामांकन भरते वक्त प्रत्याशी इसका हवाला फॉर्म में भी देगा। पार्टी और प्रत्याशियों की यह डिटेल विज्ञापन के रूप में भी प्रकाशित करनी होगी ताकि वोटर अपने प्रत्याशी के बारे में जान सके। 


लक्ष्मीपुरम के निजी स्कूल में होंगे चार पोलिंग : लक्ष्मीपुरम क्रेशर रोड ट्रांसपोर्ट नगर के शिवा पब्लिक हाईस्कूल में पिछले चुनाव के दौरान दो पोलिंग सेंटर थे। अफसरों ने बिना जांच किए अब यहां पर दो और पोलिंग सेंटर बना दिए हैं।

 

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..