सही शिक्षा प्रणाली के अभाव के कारण बढ़ रहे हैं अपराध : अविचल सागर

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
महिलाओं के पहनावे के कारण दुनिया में दुष्कर्म या महिला अपराध की घटनाएं नहीं बढ़ रहीं, बल्कि मनुष्य की विकृत सोच के कारण इस तरह के अपराधों में वृद्धि हो रही है। यदि ऐसा होता तो पर्दे में रहने वाली महिलाएं इसकी शिकार नही होतीं। यह सब हमारी शिक्षा व्यवस्था की कमी और दंड व्यवस्था में कठोरता नही होने के कारण हो रहा है। यह बात मुनिश्री अविचल सागर महाराज ने शनिवार को नया बाजार स्थित जैन मंदिर में कही।

मुनिश्री ने कहा कि बात कपड़े पहनने की नहीं है, हमारी सोच की है। उन्होंने सवाल कहा कि कि कपड़ों में मर्यादा होना चाहिए। इसके साथ ही हमारी मानसिकता भी अच्छी होना जरूरी है। संसार मे महिलाअों पर अपराध गलत शिक्षा प्रणाली के कारण बढ़ रहे हैं। लोगों को सजा का डर ही नहीं है। नाबालिग भी यदि अपराध करे तो उसे भी सजा मिलनी चाहिए।

शिक्षा में सभ्यता हो शामिल

प्राचीनकाल में गुरुकुल होते थे, जहां सभ्यता सिखाई जाती थी। आज 8-10 साल के बच्चे के हाथ मे मोबाइल होता है, उसमें वो सब कुछ होता है, जो उसे नहीं देखना चाहिए। पुराने समय के परिधान आज से ज्यादा खुले होते थे। तब सभ्यता, अनुशासन और सोच अच्छी होती थी।

सारे दुर्गुणों की जड़ है अज्ञानता: मुनिश्री ने कहा कि लोग सजा के डर से अच्छा जीवन जीते हैं। समाज, न्यायालय और रिश्तेदारों से मिलने वाली सजा के भय से मनुष्य अपराध से दूर भागते हैं। दुनिया में प्रभु श्री राम, भगवान महावीर, प्रभु श्री कृष्ण आकर चले गए, लेकिन समाज नहीं सुधरा। समाज सिर्फ डर से सुधरता है।

योग भूषण महाराज पनिहार स्थित आदीश्वरधाम में करेंगे चातुर्मास, आज होगी कलश की स्थापना
पनिहार में स्थित श्री आदीश्वर धाम श्री दिगंबर जैन अतिशय क्षेत्र में क्षुल्लक र| योग भूषण महाराज चातुर्मास करेंगे। चातुर्मास के मंगल कलश की स्थापना 28 जुलाई को सुबह 10 बजे होगी। कार्यक्रम का शुभारंभ आचार्य श्री विद्याभूषण संमति सागर अौर ज्ञान सागर महाराज के चित्र का अनावरण कर किया जाएगा। समारोह में भक्तों को ले जाने के लिए डीडी नगर, मुरार, शिंदे की छावनी, नई सड़क, विनय नगर, उपनगर ग्वालियर की लोहा मंडी, ठाटीपुर, गोरखी गेट, माधौगंज, आनंद नगर आदि स्थानों से बसें उपलब्ध रहेंगी।

खबरें और भी हैं...