मरीजों के इलाज में जुटे डॉक्टरों ने घर में भी बनाई दूरी

Gwalior News - कोरोना वायरस के संक्रमण से लोगों को बचाने और उनके इलाज में जुटे डॉक्टरों की दिनचर्या पिछले कुछ दिनों में बदल गई...

Mar 30, 2020, 07:07 AM IST

कोरोना वायरस के संक्रमण से लोगों को बचाने और उनके इलाज में जुटे डॉक्टरों की दिनचर्या पिछले कुछ दिनों में बदल गई है। सुबह से लेकर रात तक मरीजों की सेवा में लगे रहे वाले ये डॉक्टर अपने घरों में तो जा रहे हैं लेकिन सुरक्षा के चलते घरवालों से दूरी बनाए हुए हैं। पिछले एक सप्ताह में इन लोगों ने परिजनों के साथ न तो बैठकर भोजन किया है और न ही बैठकर टीवी देखी है। इतना ही नहीं दूसरों को समय पर दवा लेने की नसीहत देने वाले डॉक्टर स्वयं भी समय पर दवा नहीं ले पा रहे हैं।

डॉ. हरेंद्र सिंह पैथोलॉजिस्ट


डॉ. अमित ईएनटी विशेषज्ञ

डॉ. एसके वर्मा सीएमएचओ


स्वयं ब्लडप्रेशर के मरीज, रात एक बजे तक कर रहे हैं काम

सीएमएचओ डॉ.एसके वर्मा सुबह 9 बजे घर से निकलते हैं। स्थिति यह है कि वे दोपहर में खाना खाने भी घर नहीं जा पा रहे हैं। स्थिति को देखते हुए उनकी प|ी घर से टिफिन भी बनाकर देती हैं लेकिन अधिकतर यह हो रहा है कि उनका टिफिन वापस घर जा रहा है और वह रात 12 -1 बजे बाद बाद ही घर पहुंच रहे हैं। यह स्थिति तब है तब सीएमएचओ खुद ब्लडप्रेशर के मरीज हैं और उन्हें नियमित दवा खानी पड़ती है। सावधानी के तौर पर डॉ. वर्मा ने स्वयं को घर के अन्य सदस्यों से दूर कर रखा है।

मरीजों की सेवा के लिए सहन कर रहे घर वालों की नाराजगी

जिला अस्पताल पदस्थ ईएनटी विशेषज्ञ डॉ. अमित रघुवंशी अस्पताल में आने वाले कोरोना संदिग्ध मरीजों का चेकअप करते हैं। डॉ. रघुवंशी के घरवालों काे पता चला कि वह एप्रिन, मास्क और ग्लब्स पहनकर मरीज देखते हैं और पीपीटी किट नहीं पहनी तो घर वाले उन पर नाराज हुए। डॉ. रघुवंशी का कहना है उन्होंने घरवालों को समझाया कि पीपीटी किट संदिग्ध मरीजों के सैंपल लेते समय ही पहनी जाती है। एहतियात के तौर पर उन्होंने स्वयं को घर के अन्य सदस्यों से अलग रखा है।

टिफिन लेकर निकलते हैं घर से वह भी कई बार जाता है वापस

जिला अस्पताल मुरार के पैथोलॉजिस्ट डॉ. हरेंद्र सिंह का कहना है वह सुबह 8 बजे अस्पताल पहुंचते हैं। यहां कोरोना वायरस के संदिग्ध मरीजों के बारे में चर्चा करते हैं। इसके उपरांत डॉ. सिंह संदिग्ध मरीजों का सैंपल लेकर उन्हें जांच के लिए सीएमएचओ कार्यालय भेज रहे हैं। काम की अधिकता होने के कारण घर से ही टिफिन लेकर आते हैं। कई बार तो वह भी वापस लौट जाता है। रात 9 बजे के बाद घर पहुंच रहे हैं। स्वयं को अपने घर में ही एक कमरे में अलग रखा है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना