• Hindi News
  • Mp
  • Gwalior
  • Gwalior News mp news i have brought the message of love to eradicate the dark haters of the heart

दिल से नफरत के अंधेरों को मिटाने के लिए लाई हूं प्यार का पैगाम जमाने के लिए...

Gwalior News - mushaira मुशायरे में इन्होंने भी पढ़ी रचनाएं अपनी ही खूबियों के कातिल हैं, जो किसी का भला नहीं कर सकते। - डॉ. कमर...

Feb 15, 2020, 07:30 AM IST

mushaira

मुशायरे में इन्होंने भी पढ़ी रचनाएं


अपनी ही खूबियों के कातिल हैं, जो किसी का भला नहीं कर सकते।

- डॉ. कमर ग्वालियरी

हवा के झोंके मचल रहे हैं, चराग फिर भी तो जल रहे हैं। - सुनीति बैस

अगर हम आप जैसा रूप जो खुद में न लाते तो, न होता नाम दुनिया में अगर मुंह को छिपाते तो। - रामलाल साहू बेकस

लोग अंधाधुंध पेले जा रहे हैं, आप कैसे अकेले झेले जा रहे हैं।

- डॉ. पुष्पराज जैन

अमन के फूल जिसमें खिले हों, प्यार के दीप जलाएं हम। - डॉ. संजय मिर्जा

चांद से गुफ्तगू की हसरत है, चांदनी तू मेरी मोहब्बत है। डॉ. मुक्ता सिकरवार

{इन्होंने भी सुनाईं गजल: स्थानीय मुशायरे में डॉ. दीप्ति गौड़, महेंद्र मुक्त, नजीर नजर, माताप्रसाद शुक्ल, रवि प्रकाश कामिल, गंगादीन शाक्य, रामलाल साहू, वकार सिद्दीकी, डॉ. राकेशराज भटनागर, शेख मुहीन, कासिम रजा आदि ने शायरों ने कलाम और शेर पेश किए।

"दिल से नफरत के अंधेरों को मिटाने के लिए, लाई हूं प्यार का पैगाम जमाने के लिए। इन पंक्तियांे से राना जेबा ने मुशायरा में प्रस्तुति की शुरुआत की। वह ग्वालियर व्यापार मेले के कला रंगमंच पर आयोजित स्थानीय मुशायरा का संचालन कर रही थी। इसमें शहर के शायरों ने शिरकत की। कार्यक्रम में शायर डॉ. कमर ग्वालियरी का मेला प्राधिकरण की ओर से सम्मान किया गया।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना