• Hindi News
  • Mp
  • Gwalior
  • Gwalior News mp news incomplete road even after spending crores of rupees a side looking tent vehicle people upset due to traffic jam

करोड़ों रुपए खर्च करने के बाद भी अधूरी सड़क; एक साइड लग रहे टेंट-वाहन, ट्रैफिक जाम से लोग परेशान

Gwalior News - बहोड़ापुर से आनंद नगर होते हुए सागरताल चौराहे तक जाने वाली सड़क दो साल में करोड़ों रुपए खर्च होने के बाद भी अधूरी है।...

Bhaskar News Network

Nov 11, 2019, 08:11 AM IST
Gwalior News - mp news incomplete road even after spending crores of rupees a side looking tent vehicle people upset due to traffic jam
बहोड़ापुर से आनंद नगर होते हुए सागरताल चौराहे तक जाने वाली सड़क दो साल में करोड़ों रुपए खर्च होने के बाद भी अधूरी है। नवंबर 2017 में इस सड़क को बनाए जाने के लिए प्रदेश सरकार के तत्कालीन मंत्री जयभान सिंह पवैया ने भूमिपूजन किया था लेकिन सड़क अब तक नहीं बन सकी। इस अधूरी सड़क के कारण आनंद नगर से सागरताल और उसके आसपास की एक लाख से ज्यादा आबादी को अधूरी सड़क के कारण परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ठेकेदार की कंपनी ने नगर निगम को बताया कि सड़क के लिए स्वीकृत हुई राशि खर्च हो चुकी है और अब आनंद नगर से सागरताल तक एक साइड की सड़क को तैयार करने के लिए 2 करोड़ रुपए और चाहिए।

प्रदेश के खाद्य मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर का कहना है कि बहोड़ापुर से सागरताल तक की सड़क पर एक साइड में नाला निर्माण का काम चालू हो गया है इस काम के होते ही सड़क का निर्माण शुरू करा दिया जाएगा। पहले अमृत के काम से सड़क निर्माण प्रभावित हुआ था। जल्द ही इस सड़क को बनवा दिया जाएगा।

2 साल पहले भूमिपूजन: काम नहीं हुआ तो सड़क पर टेंट और लग रहीं दुकानें





बहोड़ापुर से सागरताल तक की खस्ताहाल सड़क।





रायरू आरओबी

दूसरी साइड पर अब तक काम नहीं हुआ शुरू

ग्वालियर| झांसी बायपास पर रायरू आरओबी की क्षतिग्रस्त साइड को तैयार कर उस पर दिसंबर से ट्रैफिक दौड़ाने का भरोसा बेशक एनएचएआई के अफसर हाईकोर्ट को दे आए हों लेकिन ऐसा हो नहीं पाएगा। क्योंकि अब तक इस साइड के लिए काम तक शुरू नहीं हो पाया। एनएचएआई अधिकारियों के अनुसार, रेलवे से अनुमति मिलने के बाद स्लैब उतर पाएगा और उसके बाद करीब 2 महीने का समय इसके तैयार होने में लगेगा। गौरतलब है कि पिछले साल से महाराजपुरा से रायरू की तरफ आने वाली साइड क्षतिग्रस्त है और इस साल मई में शुरू हुई दूसरी साइड से ही करीब 5 हजार वाहनों को गुजारा जा रहा है। ऐसे में एक ही साइड पर लोड पड़ रहा है। इस मामले में दायर जनहित याचिका में एनएचएआई के अफसरों ने जवाब पेश किया था कि दिसंबर तक दूसरी साइड तैयार कर दी जाएगी।

X
Gwalior News - mp news incomplete road even after spending crores of rupees a side looking tent vehicle people upset due to traffic jam
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना