• Hindi News
  • Mp
  • Gwalior
  • Gwalior News mp news justice claak in the high court on the led screen you will also be able to see how many cases are considered in the court

हाईकोर्ट में जस्टिस क्लाॅक.. एलईडी स्क्रीन पर आप भी देख सकेंगे किस कोर्ट में कितने मामले विचाराधीन

Gwalior News - प्रिंसिपल रजिस्ट्रार ने कहा- 18 जून से हाे सकती है शुरू लीगल रिपोर्टर | ग्वालियर मध्यप्रदेश हाईकोर्ट की...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 07:30 AM IST
Gwalior News - mp news justice claak in the high court on the led screen you will also be able to see how many cases are considered in the court
प्रिंसिपल रजिस्ट्रार ने कहा- 18 जून से हाे सकती है शुरू

लीगल रिपोर्टर | ग्वालियर

मध्यप्रदेश हाईकोर्ट की ग्वालियर बेंच में जस्टिस क्लाॅक लगाने का काम शुरू हो गया है। इसमें एक एलईडी डिस्प्ले स्क्रीन लगाई गई है। इस पर सुप्रीम कोर्ट के साथ-साथ देश के सभी हाईकोर्ट में लंबित प्रकरणों की जानकारी डिस्प्ले की जाएगी। ग्वालियर बेंच में किस कोर्ट में कितने मामलों में फैसला आया, कितने नए मामले आए। ये जानकारी भी स्क्रीन पर दिखाई जाएगी। लंबित प्रकरणों की संख्या के आधार पर ही हाईकोर्ट की रैंकिंग भी तय की जाएगी। इसका मुख्य उद्देश्य सभी हाईकोर्ट के बीच प्रतिस्पर्धा की भावना बढ़ाना है। ज्यादा से ज्यादा मामलों का जल्द निराकरण होने पर ही लंबित प्रकरणों की संख्या कम हो सकेगी। हाईकोर्ट के प्रिंसिपल रजिस्ट्रार नवीन सक्सेना ने बताया कि जल्द ही जस्टिस क्लाॅक की टेस्टिंग शुरू कराई जाएगी। सबकुछ ठीक रहा को 18 जून से इसे शुरू कर दिया जाएगा। गाैरतलब है कि भविष्य में देश के सभी हाईकोर्ट में जस्टिस क्लाॅक लगाई जाएगी। छत्तीसगढ़ हाईकोर्ट में अप्रैल में जस्टिस क्लाॅक का शुभारंभ हो चुका है।

सेंट्रल सर्वर से जोड़ी जाएगी प्रवेश पर लगी एलईडी स्क्रीन

एलईडी स्क्रीन हाईकोर्ट की मुख्य इमारत के प्रवेश द्वार के पास में लगाई गई है। इस स्क्रीन को सेंट्रल सर्वर से जोड़ा जाएगा। ताकि देश के अन्य कोर्ट की जानकारी भी प्रदर्शित की जा सके। जानकारी के अनुसार एक स्क्रीन लगाने में लगभग 22 लाख रुपए की राशि खर्च की जा रही है।

एक और लिफ्ट लगेगी

हाईकोर्ट की मुख्य इमारत में एक और लिफ्ट लगाने का काम शुरू हो गया है। 1998 में तैयार हुई बिल्डिंग में लिफ्ट लगाने के लिए दो स्थान चिन्हित किए गए हैं लेकिन आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए पूर्व में केवल एक ही लिफ्ट लगाई गई थी। वकीलों की बढ़ती संख्या और इमारत के पिछले भाग में बने कोर्टरूम में आने-जाने में हो रही परेशानी को ध्यान में रखते हुए एक और लिफ्ट लगाने का निर्णय लिया गया। वहीं पूर्व में लगाई गई लिफ्ट को भी बदला जा रहा है। अब यहां भी नई लिफ्ट लगाई जा रही है।

X
Gwalior News - mp news justice claak in the high court on the led screen you will also be able to see how many cases are considered in the court
COMMENT