खंडग्रास सूर्यग्रहण 26 को, अंचल में 2 घंटे 46 मिनट दिखेगा

Gwalior News - सूर्य ग्रहण पौष कृष्ण पक्ष अमावस्या गुरुवार 26 दिसंबर को होगा। यह ग्रहण ग्वालियर-चंबल संभाग में दिखाई देगा। ग्रहण...

Dec 04, 2019, 08:35 AM IST
सूर्य ग्रहण पौष कृष्ण पक्ष अमावस्या गुरुवार 26 दिसंबर को होगा। यह ग्रहण ग्वालियर-चंबल संभाग में दिखाई देगा। ग्रहण का पूर्णग्रास सेतुबंध रामेश्वरम, कन्याकुमारी आसन्न क्षेत्रों में होगा। यह सूर्य ग्रहण मूल नक्षत्र एवं धनु राशि पर होने के कारण मूल नक्षत्र एवं धनु राशि में जन्मे हुए जातकों के लिए विशेष कष्टकारी रहेगा।

ज्योतिषाचार्यों के अनुसार सूर्य ग्रहण का सूतक 25 दिसंबर को रात्रि 8:10 बजे से प्रारंभ हो जाएगा। ग्रहण का प्रारंभ काल 26 दिसंबर को सुबह 8 बजे से होगा। ग्रहण का मध्य सुबह 9:31 बजे एवं मोक्ष दोपहर 1:36 बजे होगा। सूर्य ग्रहण का प्रारंभ और समाप्ति काल हर जगह अलग-अलग होगा। ग्वालियर-चंबल संभाग में सूर्य ग्रहण का प्रारंभ काल सुबह 8:15 बजे और मध्य काल सुबह 9: 31 बजे तथा समाप्ति काल 11:01 बजे तक होगा। सूर्य ग्रहण का पर्व काल 2 घंटे 46 मिनट रहेगा। जब पृथ्वी और सूर्य के बीच चंद्रमा आ जाता है तब सूर्य ग्रहण पड़ता है। सूर्य ग्रहण की घटना अमावस्या वाले दिन ही घटित होती है। सूर्य ग्रहण के कारण व्यापार, शिक्षा, धार्मिक हलचल के साथ-साथ देश के अपराध में वृद्धि करेगा। साथ ही खाद्यान्न वस्तुओं और सोना-चांदी में तेजी आएगी। ग्रहण का राशियों पर प्रभाव के बारे में ज्योतिषाचार्यों का कहना है कि मेष, मिथुन, सिंह, वृश्चिक राशि वाले जातकों के लिए खंड ग्रास सूर्य ग्रहण के सामान्य एवं मध्यम फल प्राप्त होंगे। वृषभ, कन्या, धनु, मकर राशि वाले जातकों के लिए इस खंडग्रास सूर्य ग्रहण का प्रभाव कष्टकारी रहेगा। कर्क, तुला, कुंभ, मीन राशि वाले जातकों के लिए खंडग्रास सूर्य ग्रहण सुख फलदायक होगा।

जिन जातकों के लिए खंड ग्रास सूर्य ग्रहण अशुभ है उन्हें आदित्य हृदय स्रोत का पाठ, गुरु मंत्र का जाप, अपने ईष्टदेव की आराधना या सूर्य ग्रह के तांत्रिक बीज मंत्र का जाप करना शुभ रहेगा।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना