मामा जी चंबल के कबीर थे: डाॅ. पासवान

Gwalior News - पत्रकार एवं देश के मूर्धन्य विचारक स्वर्गीय माणिकचंद वाजपेयी चंबल के कबीर थे। उन्होंने कबीर जैसा ही जीवन जिया।...

Bhaskar News Network

Oct 13, 2019, 07:36 AM IST
Gwalior News - mp news mama ji chambal39s kabir was dr paswan
पत्रकार एवं देश के मूर्धन्य विचारक स्वर्गीय माणिकचंद वाजपेयी चंबल के कबीर थे। उन्होंने कबीर जैसा ही जीवन जिया। यह बात विचारक एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ. संजय पासवान ने मामा माणिकचंद्र वाजपेयी के जन्मशती समारोह कार्यक्रम को संबोधित करते हुए शनिवार को चेंबर ऑफ कॉमर्स भवन में ‘2021 की जनसंख्या-नए आयाम विषय पर आयोजित स्मृति व्याख्यान माला को संबोधित करते हुए कही। अध्यक्षता कर रहे पूर्व राज्यपाल कप्तान सिंह सोलंकी ने कहा कि आज भ्रष्टाचार बढ़ गया है। सभी बुराइयों की यही जड़ है। यह बुराई कानून, न्यायालय, भाषण, संपत्ति की घोषणा आदि से जाने वाली नहीं है। इसके लिए व्यक्ति को बदलना पड़ेगा।

डॉ. पासवान ने कहा कि लोग चार तरह के होते हैं। अनर्थी, स्वार्थी, पुरुषार्थी और परमार्थी। मामाजी सही मायनों में परमार्थी थे। डॉ. पासवान ने देश के सामने मौजूद चुनौतियों का उल्लेख करते हुए कहा कि पश्चिम बंगाल, त्रिपुरा, बिहार ऐसे द्वार हैं, जहां से आतंकवादी, घुसपैठिये भारत में प्रवेश कर रहे हैं और जाली नोटों के जरिए हमारी अर्थ व्यवस्था को कमजोर कर रहे हैं। विशिष्ट अतिथि राष्ट्रीय पुस्तक न्यास नई दिल्ली के पूर्व अध्यक्ष डॉ. बलदेव भाई शर्मा ने मामाजी से जुड़े कई संस्मरण सुनाए। श्री शर्मा ने कहा कि हेडगेवार जी ने जिस आदर्श स्वयंसेवक की कल्पना की थी, मामाजी ने उस आदर्श स्वयंसेवक को मन से जिया। श्री शर्मा ने मामाजी से जुड़ा एक हृदय विदारक संस्मरण सुनाते हुए बताया कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल विहारी वाजपेयी के निवास पर मामाजी का अमृत महोत्सव आयोजित हुआ, जिसमें भारी भीड़ उमड़ी। अटल जी ने कहा कि मैं प्रोटोकोल तोड़कर मामा जी के पैर छूकर उनका आशीर्वाद लेना चाहता हूं। प्रारंभ में अतिथियों ने मामाजी के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्ज्वलन कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। मामा माणिकचन्द्र वाजपेयी स्मृति सेवा न्यास के सचिव अतुल तारे ने कार्यक्रम की प्रस्तावना रखी। कार्यक्रम में सुबोध अग्निहोत्री, नीरज महेश्वरी, सुरेश हिंदुस्तानी ने अतिथियों को मामाजी की पुस्तक भेंट की। कार्यक्रम का संचालन डॉ. विनीता जैन ने एवं आभार दीपक सचेती ने व्यक्त किया।

कार्यक्रम को संबोधित करते डॉ. संजय पासवान व मंच पर मौजूद अतिथि।

X
Gwalior News - mp news mama ji chambal39s kabir was dr paswan
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना