14 साल की सजा काटने के बाद पाक जासूस रिहा, अभी डिटेंशन सेंटर में रहेगा

Gwalior News - 2006 में इंदरगंज पुलिस ने किया था गिरफ्तार सेंट्रल जेल ग्वालियर में बीते 14 साल से बंद पाकिस्तानी जासूस अब्बास...

Mar 27, 2020, 07:10 AM IST

2006 में इंदरगंज पुलिस ने किया था गिरफ्तार

सेंट्रल जेल ग्वालियर में बीते 14 साल से बंद पाकिस्तानी जासूस अब्बास अली खान को सजा पूरी हाेने पर 26 मार्च को रिहा कर दिया गया। हालांकि, लॉकडाउन के कारण उसे केंद्रीय जेल में बनाए गए डिटेंशन सेंटर में रखा गया है। आगामी आदेश तक उसे वहीं रखा जाएगा। दरअसल, कोर्ट ने अब्बास अली खान के मामले में स्पष्ट निर्देश दिया है कि सजा पूरी होने के बाद उसे पाकिस्तान भेजा जाए। चूंकि, देश में काेराेना के संक्रमण के खतरे काे देखते हुए 14 अप्रैल तक लॉकडाउन है और ऐसी स्थिति में अब्बास को कहीं ले जाया नहीं जा सकता। इंदरगंज पुलिस ने जासूस अब्बास को 13 मार्च 2006 को गिरफ्तार किया था। इंदरगंज पुलिस को सूचना मिली थी कि बरफू धोबी के निवास पर पाकिस्तानी जासूस अब्बास अली खान नाम बदलकर रह रहा है। पुलिस को अब्बास के पास से ड्राइविंग लाइसेंस मिला था, जो भारत आने के बाद बनवाया गया था। सत्र न्यायालय ने उसे जासूसी करने और फर्जी तरीके से दस्तावेज तैयार कराने समेत अन्य मामलों में दोषी ठहराते हुए 14 साल की सजा सुनाई थी।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना