रेत खदानों का पोर्टल बंद, अब बढ़ेंगे दाम

Gwalior News - अगले कुछ दिन में रेत की कीमत में उछाल आ सकता है। अभी एक डंपर रेत 10 से 15 हजार रुपए में उपलब्ध है पर अब इसकी कीमत 20 हजार...

Feb 15, 2020, 07:26 AM IST

अगले कुछ दिन में रेत की कीमत में उछाल आ सकता है। अभी एक डंपर रेत 10 से 15 हजार रुपए में उपलब्ध है पर अब इसकी कीमत 20 हजार तक पहुंच सकती है। नई कंपनी ने यदि जल्द काम चालू नहीं किया तो दूसरे जिलों से भी रेत की सप्लाई होने लगेगी। खनिज अधिकारी गोविंद शर्मा ने कहा कि 13 फरवरी को जिले की सभी सात रेत खदानों पर काम बंद हो चुका है, क्योंकि इन्हें ईटीपी और रॉयल्टी जारी करने वाला पोर्टल बंद हो चुका है।

जिले में रेत की 10 खदान हैं पर इनमें से सात ग्राम पंचायतें चला रही थीं। ये खदानें डबरा के सिली, पुट्टी, कुम्हर्रा, हथनौरा, बाबूपुर, लिधोरा, गजापुर और भितरवार के बसई, गधेटा, पलायछा में थीं। इन सभी से विभाग को अभी तक तीन करोड़ रुपए सालाना मिल रहे थे जबकि यहां पर हर दिन लगभग दो सौ डंपर रेत निकाली जा रही थी। बीजकपुर की एक खदान खनिज निगम के पास है। गुरुवार शाम को उक्त सभी सात खदान बंद करते हुए शासनस्तर से पोर्टल बंद कर दिया गया है। बताया जाता है कि उक्त सात सहित कुल 10 खदानों को लेकर नया अनुबंध सरकार ने एमपी सेल्स कार्पोरेशन से किया है। यह फर्म तीस करोड़ रुपए सालाना सरकार को देगी। इससे साफ है कि रेत के ठेके से अब खनिज विभाग को हर साल 27 करोड़ रुपए ज्यादा मिलेंगे। खनिज विभाग के सूत्र बताते हैं कि चूंकि ठेका काफी महंगा हुआ है, इसलिए अगले महीने से रेत के रेट बढ़ सकते हैं। इसका असर निर्माण कार्यों पर होगा। एमपी सेल्स कब से काम चालू करेगी, यह भी अभी तय नहीं है।
अभियान 20 तक: अवैध उत्खनन एवं परिवहन के खिलाफ 5 फरवरी से अभियान चल रहा है। यह अगली 20 फरवरी तक जारी रहेगा। खनिज अधिकारी गोविंद शर्मा ने कहा कि अभी तक 26 प्रकरण दर्ज हो चुके हैं।

X
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना