• Hindi News
  • Local
  • Mp
  • Gwalior
  • Gwalior News mp news sanitization work starts from fire vehicles in roads and markets hydraulic platform will also be used

सड़कों और बाजारों में दमकल वाहनों से सेनिटाइजेशन का काम शुरू, हाइड्रोलिक प्लेटफार्म का भी होगा उपयोग

Gwalior News - शहरवासियाें काे कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाने के लिए नगर निगम ने अब दमकल के छोटे वाहनों को भी मैदान में उतार...

Mar 27, 2020, 07:11 AM IST

शहरवासियाें काे कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाने के लिए नगर निगम ने अब दमकल के छोटे वाहनों को भी मैदान में उतार दिया है। फायर फाइटिंग और क्विक रिस्पांस व्हीकल्स के माध्यम से गुरुवार की शाम को सेनिटाइजेशन करने का काम शुरू किया गया। सड़कों के साथ-साथ मुख्य बाजारों और दुकानों पर सोडियम हाइपोक्लोराइट का छिड़काव किया गया। नगर निगम के अधिकारियों का सोचना है कि शहर की इमारतों में रहने वालों काे सुरक्षित करने के लिए 52 मीटर ऊंचाई की क्षमता वाले हाइड्रोलिक प्लेटफार्म को शुक्रवार से उपयोग में लाया जाएगा। इसके माध्यम से इमारतों में सोडियम हाइपोक्लोराइट का छिड़काव कर कोरोना वायरस के संक्रमण से लाेगाें काे सुरक्षित किया जाएगा।

अभी तक नगर निगम जेटिंग मशीन, मच्छराें काे मारने की दवा का छिड़काव करने वाली मशीन और कोल्ड जेटिंग मशीन आदि से सेनिटाइजेशन का काम करा रहा था। तेज प्रेशर के साथ दूर-दूर तक सोडियम हाइपोक्लोराइट पानी के साथ मिक्स होकर पहुंच सके, इसके लिए नगर निगम ने चार छोटे दमकल वाहनों को लगाया है।

यहां से की शुरूआत

सेनिटाइजेशन की शुरूआत रूपसिंह स्टेडियम से की गई। इसके बाद गोविंदपुरी, गांधी नगर रोड, थाटीपुर और मुरार आदि क्षेत्रों में चारों वाहनों को पहुंचाया गया। इनके माध्यम से तेज प्रेशर के साथ दवा डाली गई। बाजारों के साथ पुलिस चौकी, सरकारी आॅफिस, रैन बसेरा और सड़कों आदि को सेनिटाइज किया गया।

हाईड्रोलिक प्लेटफार्म का उपयोग आज से

नोडल अधिकारी केशव सिंह चौहान ने बताया कि ऊंची इमारतों को सेनिटाइज करने के लिए 27 मार्च से 52 मीटर ऊंचे हाइड्रोलिक प्लेटफार्म का उपयोग करेंगे। शहर में जहां आसानी से हाइड्रोलिक प्लेटफार्म पहुंच सकेगा, वहां ले जाकर सेनिटाइजेशन का काम कराया जाएगा।

मुख्य न्यायाधीश को भेजी याचिका, प्रदेश के सभी गली-मोहल्लों को सेनिटाइज करने की मांग

प्रदेश के सभी शहरों के गली-मोहल्लों को सेनिटाइज करने की मांग करते हुए एडवोकेट अनिल मिश्रा ने मप्र हाईकोर्ट को जनहित याचिका मेल की है। याचिका में कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए सभी स्थानों के साथ ही आवश्यक वस्तुओं के भी सेनिटाइजेशन की मांग की गई है। याचिका में यह अंदेशा जताया गया है कि आवश्यक वस्तु जिस मटेरियल में पैक होकर घरों में पहुंच रही है, उसके माध्यम से भी कोरोना वायरस लोगों को संक्रमित कर सकता है। ऐसे में इन वस्तुओं का भी सेनिटाइजेशन सुनिश्चित किया जाना चाहिए। याचिका में जेल में बंद उन कैदियों को भी पैरोल पर छोड़ने की मांग की गई है, जिन्हें सात वर्ष तक की सजा हुई है। इसके संबंध में हाल ही में सुप्रीम कोर्ट के आदेश का भी हवाला दिया गया है। नारी निकेतन अाैर बाल सुधार गृह समेत अन्य संस्थाओं में भी बचाव व देखरेख के उचित प्रबंध करने की मांग की गई है। यहां बता दें कि मुख्य न्यायाधीश द्वारा याचिका स्वीकार करने की स्थिति में इस मामले की सुनवाई की जाएगी।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना