पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Gwalior News Mp News Supervisor Asked Why Did The Election No Talk Nationalism Nobody Knows

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

पर्यवेक्षक ने पूछा- चुनाव क्यों हारे, कोई बोला-राष्ट्रवाद, तो किसी को पता नहीं

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
लोकसभा चुनाव में हुई कांग्रेस की करारी हार के कारणों की तलाश को लेकर पार्टी नेतृत्व ने कवायद शुरू कर दी है। इसी के चलते शुक्रवार को पार्टी के राष्ट्रीय सचिव संजय कपूर केंद्रीय पर्यवेक्षक के रूप में ग्वालियर पहुंचे। यहां उन्होंने ग्वालियर के साथ-साथ भिंड-दतिया आैर मुरैना-श्योपुर लोकसभा क्षेत्र के उम्मीदवारों के साथ ही प्रमुख पदाधिकारियों से चुनाव में हार का कारण जानना चाहा। उन्होंने पार्टी नेताआें से सीधा सवाल किया- हम चुनाव क्यों हारे? इस पर किसी ने कहा- भाजपा का राष्ट्रवाद आैर मोदी के चेहरे के कारण हमें ( कांग्रेस) वोट नहीं मिला। जबकि कुछ नेताआें बोले-हमें नहीं पता।

आैपचारिक तौर पर एक साथ बैठने के बाद केंद्रीय पर्यवेक्षक ने पार्टी नेताआें से अलग-अलग चर्चा भी की। एक मोर्चा संगठन के अध्यक्ष से जब उन्होंने सवाल किया कि बताइए चुनाव में किसने क्या काम किया तो जवाब मिला- हमने तो अपनी टीम के साथ पूरी ईमानदारी से काम किया, दूसरों की वे जानें। इसके बाद उनसे पूछा गया कि सबने काम किया तो फिर चुनाव क्यों हार गए, इस पर जवाब मिला- हमें नहीं पता। जिले के दो मंत्रियों ने कहा- हमारे क्षेत्र में तो पार्टी उम्मीदवार को बढ़त ( जीत) मिली है। लेकिन शहर में हम हार गए क्योंकि यहां हम भाजपा के प्रचारतंत्र का मुकाबला नहीं कर पाए। एक वरिष्ठ नेता ने कहा- मोदी के चेहरे आैर भाजपा के राष्ट्रवाद के चलते हमें वोट नहीं मिले। एक आैर मंत्री बोले- आचार संहिता के कारण हम किसान कर्जमाफी की योजना पर ठीक से अमल नहीं कर पाए, इस कारण लोग नाराज हो गए।

मुलाकात करने वालों में अशोक सिंह, मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, इमरती देवी, लाखनसिंह यादव, विधायक मुन्नालाल गोयल, जिला कांग्रेस के अध्यक्ष डॉ. देवेंद्र शर्मा, मोहन सिंह राठौर,कमलेश कौरव मौजूद रहे। श्री कपूर के साध धीरज गाबा आैर राहुल राय भी थे।

इससे पहले भिंड लोकसभा क्षेत्र के लोगों से की। वहां से चुनाव लड़ चुके देवाशीष सबसे पहले मिले। इसके बाद वहां के चुनाव प्रभारी रहे अशोक शर्मा,जयश्रीराम बघेल, रमेश दुबे, रजनी श्रीवास्तव, दतिया के राजेंद्र भारती भी मिले। उम्मीदवार से लेकर बाकी सभी नेताआें ने संगठनात्मक खामियों को हार के लिए जिम्मेदार ठहराते हुए संगठन में नीचे से ऊपर तक बदलाव करने की बात कही। भिंड के बाद मुरैना की बारी थी। वहां से चुनाव लड़ चुके रामनिवास रावत के साथ अन्य नेता भी अपने-अपने तरीके से चुनावी हार का कारण गिनाकर चले गए।

कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव संजय कपूर की रेलवे स्टेशन पर अगवानी करते कांग्रेसी।

चर्चा में आए कारणों पर चिंतन-मंथन होगा
चुनाव में जय-पराजय को होती ही है । हार के कारणों पर उम्मीदवारों से लेकर लोकसभा प्रभारियों, संगठन पदाधिकारियों आैर वरिष्ठ नेताआें से चर्चा की है। जो भी कारण सामने आएंगे, उनसे पार्टी हाईकमान को अवगत कराएंगे। -संजय कपूर, सचिव अभा कांग्रेस कमेटी

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज समय कुछ मिला-जुला प्रभाव ला रहा है। पिछले कुछ समय से नजदीकी संबंधों के बीच चल रहे गिले-शिकवे दूर होंगे। आपकी मेहनत और प्रयास के सार्थक परिणाम सामने आएंगे। किसी धार्मिक स्थल पर जाने से आपको...

और पढ़ें