• Hindi News
  • Mp
  • Gwalior
  • Gwalior News mp news the case of theft of 20 rupees was going on for 41 years the case ended in lok adal

41 साल से चल रहा था 20 रुपए चोरी का मामला, लोक अदालत में खत्म हुआ केस

Gwalior News - लोक अदालत में 41 साल पुराने 20 रुपए की चोरी के मामले का निराकरण हुआ। कोर्ट के नोटिस पर फरियादी बाबूलाल (64 वर्ष)...

Bhaskar News Network

Jul 14, 2019, 07:30 AM IST
Gwalior News - mp news the case of theft of 20 rupees was going on for 41 years the case ended in lok adal
लोक अदालत में 41 साल पुराने 20 रुपए की चोरी के मामले का निराकरण हुआ। कोर्ट के नोटिस पर फरियादी बाबूलाल (64 वर्ष) न्यायाधीश अनिल कुमार नामदेव के समक्ष पहुंचे। यहां आरोपी इस्माइल (60 वर्ष) पहले से मौजूद थे। बाबूलाल ने कहा- साहब, मैं आरोपी को नहीं जानता। इतने साल बीत गए, अब मामला खत्म कर दीजिए। सहमति के बाद मामले को खत्म कर दिया।

शनिवार को जिला न्यायालय में आयोजित नेशनल मेगा लोक अदालत में आपसी समझौते से 769 और हाईकोर्ट में 447 मामलों का निराकरण किया गया। हाईकोर्ट में प्रशासनिक न्यायमूर्ति संजय यादव ने नेशनल मेगा लोक अदालत का शुभारंभ किया। मोटर दुर्घटना क्लेम अपील प्रकरण के 138 मामलों में पीड़ित पक्षकारों को दो करोड़ 51 लाख 29 हजार की अतिरिक्त राशि दी गई। वहीं जिला न्यायालय में नगर निगम के कुल 1607 मामले निपटे। इसके अलावा 769 प्रकरणों का भी निराकरण हुआ। मोटर दुर्घटना दावा के मामलों में तीन करोड़ 48 लाख 86 हजार की राशि अवार्ड की गई। चेक बाउंस के मामलों में 4 करोड़ 76 लाख 36 हजार, क्रिमिनल कंपाउंडेबल प्रकरण में 24 लाख 2 हजार, वैवाहिक मामलों में 70 हजार, श्रम मामलों में 25 लाख 43 हजार, सिविल प्रकरणों में 9 करोड़ 98 लाख 63 हजार व अन्य प्रकरणों में 1 करोड़ 91 लाख 62 हजार रुपए की वसूल की गई। जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव न्यायाधीश शिवकांत ने बताया कि नेशनल मेगा लोक अदालत में 1914 व्यक्ति लाभांवित हुए

जिला न्यायाधीश दीपक कुमार अग्रवाल पति-प|ी को पौधे देते हुए। साथ में खड़े हैं जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव न्यायाधीश शिवकांत।

बस टिकट खरीद रहे थे, तब हुई थी चोरी

साइंस कॉलेज में लैब वर्कमैन के पद पर कार्यरत बाबूलाल ने बताया कि 1978 में वह बस टिकट खरीद रहे थे, तब उनकी जेब से 20 रुपए चोरी कर लिए गए थे। माधौगंज पुलिस ने जांच के बाद इस्माइल खान को आरोपी बनाया। इस्माइल ने 2004 से पेशी पर जाना बंद कर दिया। 18 अप्रैल 2019 को पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया।

पति-प|ी को दिया पौधा कहा- देखभाल करना

काले खां (निवासी घाटीगांव) ने प|ी रेशमा के साथ संबंधों की पुनर्स्थापना के लिए आवेदन दिया। दोनों सवा साल से अलग रह रहे थे। न्यायाधीश सचिन शर्मा ने दोनों को समझाया। दोनों साथ रहने को तैयार हो गए। जिला न्यायाधीश दीपक कुमार अग्रवाल ने दोनों को पौधा दिया। कहा कि इन पौधों की भी बच्चों की तरह देखभाल करना।

चेक बाउंस का मामला भी निपटा

उत्तम सिंह ने 75 लाख के चेक बाउंस मामले में परिवाद दायर किया था। शनिवार को इस मामले में आरोपी ने न केवल राशि जमा कराई बल्कि 75 हजार रुपए बतौर जुर्माना जिला विधिक सेवा प्राधिकरण में जमा कराया। न्यायाधीश राजेंद्र सिंह शाक्य ने बताया कि ये मामला 2 जनवरी 2017 से लंबित था। वहीं राजकुमार कुकरेजा, दीपक गुप्ता व रमेश चौरसिया ने गीता गुर्जर, धीरेंद्र गुर्जर व अन्य से चिरवाई स्थित 24 बीघा 15 बिस्वा जमीन का सौदा 8 करोड़ 11 लाख 25 हजार रुपए में किया था। रजिस्ट्री नहीं करने पर राजकुमार कुकरेजा व अन्य ने वाद पेश किया। लोक अदालत में परिवादी ने रजिस्ट्री कराने की सहमति प्रदान की, जिसके बाद मामला निपट गया।

लोक अदालत में बिजली कंपनी के कुल 143 प्रकरणों का निपटारा हुआ।

X
Gwalior News - mp news the case of theft of 20 rupees was going on for 41 years the case ended in lok adal
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना