• Hindi News
  • Mp
  • Gwalior
  • Gwalior News mp news the college should appoint teachers in the next 2 months or it will not get affiliation in the next session

काॅलेज अगले 2 माह में शिक्षक नियुक्त कर लें नहीं ताे अगले सत्र में नहीं मिलेगी संबद्धता

Gwalior News - एजुकेशन रिपोर्टर | ग्वालियर जीवाजी यूनिवर्सिटी ने अंचल के 400 प्राइवेट कॉलेजों को चेतावनी दी है कि वह दिसंबर तक...

Bhaskar News Network

Oct 13, 2019, 07:35 AM IST
Gwalior News - mp news the college should appoint teachers in the next 2 months or it will not get affiliation in the next session
एजुकेशन रिपोर्टर | ग्वालियर

जीवाजी यूनिवर्सिटी ने अंचल के 400 प्राइवेट कॉलेजों को चेतावनी दी है कि वह दिसंबर तक शिक्षकों की नियुक्तियां कर लें। नियुक्ति नहीं होने की स्थिति में शिक्षकों की कमी रहती है तो ऐसे कॉलेजों को अगले सत्र में संबद्धता नहीं मिलेगी। जेयू के डायरेक्टर कॉलेज डेवलपमेंट कमेटी प्रो. डीडी अग्रवाल ने इसके लिए अंचल के सभी कॉलेजों में पत्र भेजा है। उल्लेखनीय है कि इस बार संबद्धता के निरीक्षण के दौरान ज्यादातर कॉलेजों में जेयू के नियम और परिनियम के अनुसार छात्राें के अनुपात में नियुक्तियां नहीं पाईं थीं। काॅलेजाें में शिक्षक तो थे लेकिन तय योग्यता के अनुसार नहीं थे। इस पर डीसीडीसी ने जल्द से पीएचडी और नेट क्वालिफाई शिक्षकों को नियुक्त करने की शर्त पर संबद्धता दी थी। इस सत्र में अगस्त से प्राइवेट कॉलेजों में शिक्षकों की नियुक्ति प्रक्रिया शुरू की जाना थी। लेकिन प्राइवेट कॉलेजों ने नियुक्ति प्रक्रिया शुरू नहीं की और जेयू को चेतावनी जारी करना पड़ी।

जेयू के डीसीडीसी प्रो. डीडी अग्रवाल ने अंचल के सभी प्राइवेट कॉलेजों को पत्र जारी किया है। इसमें लिखा गया है कि जेयू से संबद्ध सभी सामान्य पाठ्यक्रम और बीएड कॉलेज में प्राचार्य या शिक्षकों की कमी है, वह जेयू के अधिनियम के अनुसार 31 दिसंबर तक आवश्यक रूप से नियुक्ति कर लें। अन्यथा शिक्षकों के अभाव में सत्र 2020-21 की संबद्धता नहीं दी जाएगी। चेतावनी में साफ तौर पर लिखा गया है कि 31 दिसंबर के बाद नियुक्तियां होंगी तो उसे जेयू मान्यता नहीं देगा।

शिक्षकों की नियुक्ति करने की बजाय कॉलेज करते हैं इससे बचने की कोशिश

पिछले 3 वर्षों से प्राइवेट कॉलेजों में छात्रों के अनुपात में शिक्षकों की नियुक्ति के लिए कोशिश की जा रही है। इसके चलते इस सत्र में 40 कॉलेजों को उन कोर्सों की संबद्धता नहीं दी गई है, जिनमें शिक्षकों की कमी थी। जिन कॉलेजों ने मैनेजमेंट कोटे के तहत शिक्षकों की नियुक्ति थी उन्हें इस शर्त पर रियायत दी गई थी कि वह जल्द पीएचडी और नेट क्वालिफाई शिक्षकों को जेयू के परिनियम 28 के तहत नियुक्ति प्रक्रिया पूरी करे। लेकिन इन कॉलेजों ने अभी तक नियुक्ति प्रक्रिया शुरू नहीं की जिसकी वजह से जेयू को चेतावनी जारी की गई है। कॉलेज पहले तो नियुक्तियां नहीं करते हैं और उसके बाद यह कहकर बचने की कोशिश करते हैं कि पीएचडी और नेट क्वालिफाई उम्मीदवार न मिलने की वजह से नियुक्तियां नहीं की गई हैं।

छात्रों के अनुपात में शिक्षकों की कमी है


X
Gwalior News - mp news the college should appoint teachers in the next 2 months or it will not get affiliation in the next session
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना