• Hindi News
  • Mp
  • Gwalior
  • Gwalior News mp news the company started pre monsoon maintenance a month ago amid unnecessary power cuts

बेवजह बिजली कटौती के बीच कंपनी ने एक माह पहले ही शुरू किया प्री-मानसून मेंटेनेंस

Gwalior News - शहर में अलग-अलग वक्त 3 घंटे तक अघोषित कटौती हो रही है और अब बिजली कंपनी ने अप्रैल-मई में होने वाले प्री-मानसून...

Feb 15, 2020, 07:31 AM IST
Gwalior News - mp news the company started pre monsoon maintenance a month ago amid unnecessary power cuts

शहर में अलग-अलग वक्त 3 घंटे तक अघोषित कटौती हो रही है और अब बिजली कंपनी ने अप्रैल-मई में होने वाले प्री-मानसून मेंटेनेंस को एक माह पहले ही शुरू कर दिया है, जबकि स्कूलों में स्थानीय स्तर की परीक्षाएं चल रही हैं और सीबीएसई बोर्ड की परीक्षाएं शनिवार से शुरू हो रही हैं। मप्र बोर्ड की परीक्षाएं भी 2 मार्च से शुरू होंगी, लेकिन इससे पहले बेवजह और मेंटेनेंस के नाम पर काटी जा रही बिजली के कारण स्टूडेंट्स की पढ़ाई बिगड़ रही है। हालांकि, बिजली कंपनी के अफसरों का दावा है कि मेंटेनेंस सुबह से दोपहर के बीच में किया जा रहा है इसलिए छात्रों की पढ़ाई पर असर नहीं पड़ेगा, लेकिन इस बात का जवाब नहीं है कि परीक्षा दौरान होने वाली कटौती से परीक्षा हॉल में जो समस्या आएगी, उसका क्या समाधान है?

दावा- परेशानी खत्म करने के लिए कर रहे मेंटेनेंस

बिजली कंपनी के महाप्रबंधक डीबी ठाकरे के मुताबिक, गर्मी और मानसून सीजन में बिजली फॉल्ट बढ़ते हैं इसलिए प्री-मानसून मेंटेनेंस अभी से शुरू किया है। जहां तक परीक्षाओं की बात है तो मेंटेनेंस सुबह 9 से दोपहर 1 बजे के बीच कर रहे हैं। इस कारण परीक्षाओं में कोई दिक्कत नहीं आएगी।

मेंटेनेंस का असर

कई क्षेत्रों में आज 2 से 3 घंटे तक होगी बिजली कटौती

ग्वालियर | शहर के कई क्षेत्रों में शनिवार को सुबह 10 से 2 बजे तक बिजली गुल रहेगी। इसके तहत 11 केवी खटीक मोहल्ला फीडर के तहत खटीक मोहल्ला, कंपनी बाग रोड, अग्रसेन चौराहा, न्यू दुर्गा काॅलोनी, घासमंडी, हरदेव सिंह की टाल, तिकाेनिया, रिसाला बाजार, बजाज खाना आदि क्षेत्र प्रभावित रहेंगे।

इसी क्रम में सुबह 8 से 11 बजे तक 11 केवी बी सेक्टर फीडर के तहत बी सेक्टर का संपूर्ण क्षेत्र प्रभावित रहेगा।

इसी क्रम में सुबह 10 से 12 बजे तक 33 केवी गारमेंट पार्क फीडर के तहत गारमेंट पार्क औद्योगिक क्षेत्र। 11 केवी मां वैष्णोपुरम फीडर के एबी रोड, वैष्णोपुरम, न्यू संजय नगर, गदाईपुरा आदि क्षेत्र। 11 केवी चार शहर का नाका फीडर के पीएचई कॉलोनी, भीकम नगर, चाैड़े के हनुमान, शर्मा फार्म रोड, न्यू नरसिंह नगर, तेली की बगिया आदि क्षेत्र प्रभावित रहेंगे।

पिछले साल कलेक्टर ने जो व्यवस्था बनाई, वह अब फेल


पिछले साल गर्मी के सीजन में रोजाना 8 से 10 घंटे तक होने वाली बिजली कटौती के कारण कलेक्टर अनुराग चौधरी ने 6 जून को कलेक्टर अनुराग चौधरी ने बिजली कंपनी के अफसरों की बैठक ली थी और निर्देश दिए थे कि जहां भी मेंटेनेंस किया जाए। वहां की सूचना एक सप्ताह पहले से लोगों तक पहुंचाई जाए और मेंटेनेंस के लिए सुबह 7.30 बजे के बाद बिजली सप्लाई बंद नहीं की जाए। लेकिन, कंपनी द्वारा कटौती 9 बजे से की जा रही है और अधिकांश क्षेत्रों में पानी सप्लाई का समय 10 बजे का है तो वे लोग पानी नहीं भर पाते। इसके अलावा ग्वालियर में शिकायत कंट्रोल रूम स्थापित करने की बात कही गई थी मगर शिकायत अब भी भोपाल के कॉल सेंटर पर ही करनी पड़ रही है।


शहर में बिजली गुल होने की शिकायतें बढ़ीं, मार्च में बढ़ेगी दिक्कत


बीते 10 दिनों से विनय नगर जोन, मुरार, हुरावली, गुढ़ा, लक्ष्मीगंज, बहोड़ापुर, शील नगर, घासमंडी, सीपी कॉलोनी, थाटीपुर, ओहदपुर समेत कई क्षेत्र ऐसे हैं। जहां सुबह से रात तक अलग-अलग समय में एक से तीन घंटे तक बिजली सप्लाई बंद हो रही है। लोगों के अनुसार कई बार बिजली गुल रहने के कारण अब सबसे बड़ा नुकसान बच्चों की पढ़ाई का हो रहा है और उसके अलावा पानी सप्लाई के वक्त भी कई बार बिजली गुल होने से दिक्कत बढ़ रही है।


बिजली कंपनी ने स्थानीय स्तर पर किसी भी फॉल्ट या शिकायत को दर्ज कर निपटाने के लिए सिस्टम नहीं बनाया है। भोपाल में एक कॉल सेंटर स्थापित है, जिस पर अंचल और भोपाल का लोड होता है। ऐसे में कई बार कॉल करने पर भी लोगों की शिकायत दर्ज नहीं हो पाती। ग्वालियर शहर से पिछले 5 दिनों में 2865 शिकायतें बिजली गुल होने की कॉल सेंटर पहुंची हैं, जो आम दिनों की तुलना में ज्यादा हैं और मार्च में गर्मी तेज होने और परेशानी बढ़ने की आशंका अफसर जता रहे हैं।


हर साल प्री-मानसून मेंटेनेंस अप्रैल व मई में कराया जाता है, लेकिन इस साल बिजली कंपनी के अधिकारियों ने इसे फरवरी से ही शुरू करा दिया है। पिछले साल तक परीक्षा का समय देखते हुए मार्च तक इसे नहीं किया जाता था। बिजली कंपनी के अफसरों का तर्क है कि अभी से सभी फीडरों की कमी दूर करने की कोशिश की जा रही है क्योंकि, पिछले साल गर्मी के सीजन में ज्यादा फॉल्ट हुए थे।


निजी स्कूलों में स्थानीय स्तर पर होने वाली परीक्षाएं 8 व 10 फरवरी से शुरू हो चुकी हैं और सीबीएसई बोर्ड में दसवीं व बारहवीं की परीक्षाएं शनिवार यानी कि 15 फरवरी से शुरू हो रही हैं। जो कि मार्च अंत तक चलेंगी। इन परीक्षाओं में करीब 8 हजार स्टूडेंट्स शामिल होंगे। वहीं 2 मार्च से मप्र बोर्ड की परीक्षाएं शुरू होंगी, इसमें 54 हजार स्टूडेंट्स शामिल होंगे। इन स्टूडेंट्स को बिजली कटौती के कारण तैयारी में भी दिक्कत आ रही है।


रंग महल गार्डन के सामने मेटेनेंस करती टीम।

X
Gwalior News - mp news the company started pre monsoon maintenance a month ago amid unnecessary power cuts
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना