छुआछूत का हिंदू धर्म में कोई स्थान नहीं: देशपांडे

Gwalior News - छुआछूत का हिंदू धर्म में कोई स्थान नहीं है। आजादी के बाद से ही समाज को जाति अौर धर्म के आधार पर बांटने के प्रयास चल...

Oct 13, 2019, 07:40 AM IST
छुआछूत का हिंदू धर्म में कोई स्थान नहीं है। आजादी के बाद से ही समाज को जाति अौर धर्म के आधार पर बांटने के प्रयास चल रहे हैं। इसके विरुद्ध परिषद लगातार सामाजिक जागरूकता कार्यक्रम अायोजित कर रहा है। हम सब एक हैं, हमें यह बात समझनी होगी। यह बात विश्व हिंदू परिषद द्वारा महर्षि वाल्मीकि की जयंती पर आयोजित सामाजिक समरसता सम्मेलन के मुख्य वक्ता परिषद के केंद्रीय संगठन महामंत्री विनायक राव देशपांडे ने कही। कार्यक्रम का शुभारंभ अचलेश्वर रोड पर स्थित जीवायएमसी क्लब में हुआ। इस अवसर पर गंगादास की बड़ी शाला के महंत संतश्री रामसेवक दास महाराज विशेष रूप से उपस्थित थे। अध्यक्षता परिषद के कोषाध्यक्ष जितेंद्र कुमार शर्मा थे। मुख्य वक्ता श्री देशपांडे ने कहा कि जब श्री राम ने माता सीता का त्याग किया तब माता सीता वन में भटक रहीं थीं। वन में माता सीता महर्षि वाल्मीकि के अाश्रम में पहुंची। यहां पर ही माता सीता ने लव अौर कुश को जन्म दिया। महर्षि वाल्मीकि अस्त्र-शस्त्र अौर शास्त्र के ज्ञाता थे। उन्होंने ही लव-कुश को शिक्षा दीक्षा दी। जब श्री राम ने अश्वमेघ यज्ञ किया तो यज्ञ के घोड़े को लव-कुश ने पकड़ लिया। तब श्री राम की बलशाली सेना का सामना लव कुश से हुआ। लव-कुश ने सेना को परास्त कर अपनी शक्ति का प्रदर्शन किया। उन्होंने बताया कि परिषद द्वारा 91 हजार सेवा प्रकल्प चलाए जा रहे हैं। इनमें से 90 हजार सेवा प्रकल्प हरिजन बस्तियों में चलाए जाते हैं। परिषद द्वारा वनवासी छात्रावास, एंबुलेंस सेवा, चिकित्सा सेवा, सहभोज, वस्त्र वितरण, पौधरोपण, पर्यावरण संरक्षण, सिलाई प्रशिक्षण, संस्कार केंद्र, योग शिविर अादि लगाए जाते हैं। संचालन विहिप जिलामंत्री कृष्ण कुमार रावत ने किया। इस अवसर पर डाॅ. एमएल माहौर, समाजसेवी हेमा गौड़िया, परिषद के भोपाल क्षेत्र के क्षेत्रीय संगठन मंत्री दिनेश चंद्र उपाध्याय, विहिप के प्रांत मंत्री पप्पू वर्मा, जिलाध्यक्ष मुकेश गुप्ता, मुकेश अग्रवाल अादि उपस्थित थे।

सनातन धर्म मंदिर में शरद पूर्णिमा अाज, अचलेश्वर में 21 को

ग्वालियर| श्री सनातन धर्म मन्दिर में शरद पूर्णिमा उत्सव रविवार को मनाया जाएगा। इस अवसर पर भजन गायक सतीश कौशिक की भजन संध्या का आयोजन किया जाएगा। इस मौके पर भगवान श्री चक्रधर अौर भगवान श्री गिरिराज धरण का शरदमय श्वेत शृंगार किया जाएगा। माहेश्वरी भवन डीडवाना ओली में रात 8 से 10 बजे तक शरद पूर्णिमा मनाई जाएगी। अचलेश्वर मंदिर में शरद पूर्णिमा 21 अक्टूबर को मनाई जाएगी।

ब्राह्मण अौर क्षत्रिय महासभा नेे चलाया ट्रैफिक सुधार अभियान

ग्वालियर| अखिल भारतीय ब्राह्मण महासभा (रा) अौर अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा द्वारा शनिवार को संयुक्त रूप से दौलतगंज व गस्त का ताजिया में ट्रैफिक सुधार अभियान चलाया गया।

जीवायएमसी में आयोजित समरसता सम्मेलन काे संबाेधित करते विनायक राव देशपांडे

महर्षि वाल्मीकि जयंती महोत्सव आज, निकलेगा चल समारोह

ग्वालियर| महर्षि वाल्मीकि जयंती रविवार को माधोपुरा शहीद गेट मुरार पर मनाई जाएगी। इस अवसर पर चल समारोह शाम 4 बजे संजय पार्क मुरार से शुरू होगा, जो मुख्य मार्ग से होता हुआ माधोपुरा शहीद गेट मुरार पर रात 8 बजे पहुंचेगा। वहीं शिवपुरी के भावखेड़ी गांव में वाल्मीकि समाज के दो बालक-बालिका की निर्मम हत्या हो जाने के कारण समाज वाल्मीकि ज्योति यात्रा एव‌ं चल समारोह नहीं निकालेगा। यह जानकारी एकता संघ के जिला अध्यक्ष प्रमोद चौधरी ने दी। वहीं अखिल भारत हिंदू महासभा ने वाल्मीकि जयंती पर विचार सभा का आयोजन किया। इस दौरान हिंदू महासभा के प्रांतीय संयोजक मोहनलाल वर्मा मौजूद थे।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना