--Advertisement--

राजनीति / राजमाता विजयाराजे सिंधिया की 100वीं जयंती, मुख्यमंत्री ने मैराथन को दिखाई हरी झंडी, ज्योतिरादित्य पहुंचे समाधि स्थल



rajmata vihyaraje scindia
X
rajmata vihyaraje scindia

Dainik Bhaskar

Oct 16, 2018, 08:25 PM IST

ग्वालियर। पूर्व ग्वालियर रियासत की महारानी भाजपा नेत्री स्व. राजमाता विजयाराजे सिंधिया की आज 100वीं जयंती है। देश में भारतीय जनता पार्टी इसे जन्म शताब्दी वर्ष के रूप में मना रही है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने 375 किलोमीटर मैराथन को झंडी दिखाकर रवाना किया। वहीं राजमाता के पौते ज्योतिरादित्य सिंधिया अपनी दादी के समाधि स्थल(छत्री) पर पुष्पांजलि अर्पित करने पहुंचे। राजमाता विजियाराजे सिंधिया भाजपा की संस्थापक सदस्य थीं। 

 

प्रदेश सरकार ने चुनाव आचार सहिंता लगने से पहले ही राजमाता विजियाराजे सिंधिया का जन्मशती वर्ष मनाने की घोषणा की थी। इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी भोपाल में आयोजित एक कार्यक्रम में जन्मशती पर्व को बड़े पैमाने पर मनाने का ऐलान किया था। इसी उपलक्ष्य में ग्वालियर से दिल्ली तक की महिला मैराथन आयोजित की जा रही है। जिसे आज सुबह मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। ये 375 किलोमीटर की यह मैराथन मुरैना, धौलपुर, आगरा, मथुरा, वृंदावन, पलवल और फरीदाबाद से होती हुई दिल्ली पहुंचेगी। दिल्ली में 16 अक्टूबर को इसका समापन होगा। जहां बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह रिले मैराथन का स्वागत करेंगे। उसके बाद तालकटोरा स्टेडियम में एक भव्य कार्यक्रम होगा।

 

ज्योतिरादित्य सिंधिया से पहले मुख्यमंत्री पहुंचे समाधिस्थल

राजमाता को श्रद्धांजलि देने पौते ज्योतिरादित्य सिंधिया से पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौरान, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और यशोधरा राजे समाधि स्थल पहुंची। ज्योतिरादित्य सिंधिया सुबह करीब साढ़े नौ बजे शताब्दी एक्सप्रेस से ग्वालियर आए और समाधि स्थल पर पुष्पांजलि अर्पित करने पहुंचे।

--Advertisement--
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..