• Home
  • Mp
  • Gwalior
  • Gwalior - स्कूलों में पुलिसकर्मी सिखाएंगे यातायात के नियम
--Advertisement--

स्कूलों में पुलिसकर्मी सिखाएंगे यातायात के नियम

वाहन चलाते समय दूसरे वाहन को ओवरटेक किस साइड से करना चाहिए, पीली बत्ती का मतलब क्या होता है और रात के समय अपर एवं...

Danik Bhaskar | Sep 13, 2018, 02:51 AM IST
वाहन चलाते समय दूसरे वाहन को ओवरटेक किस साइड से करना चाहिए, पीली बत्ती का मतलब क्या होता है और रात के समय अपर एवं डिफर लाइट का प्रयोग क्यों किया जाता है? यातायात से जुड़ी ऐसी ही जानकारी अब शहर के गवर्नमेंट और प्राइवेट स्कूलों में ट्रैफिक पुलिस देगी। इसके लिए पुलिस विभाग की ओर से अलग-अलग स्कूलों में वर्कशॉप और सेमिनार का आयोजन किया जाएगा। सेमिनार में एक्सपर्ट यातायात के नियमों की जानकारी देंगे, जबकि वर्कशॉप में पुलिस विभाग की ओर से एक्सपर्ट की स्पीच के साथ यातायात पर बनी शॉर्ट मूवी को दिखाया जाएगा। इसके माध्यम से पुलिस अधिकारी बताएंगे कि प्रदेश के साथ-साथ शहर में सबसे ज्यादा दुर्घटना किन कारणों से होती है और कौन सी ऐसी सावधानियां हैं, जिनके माध्यम से दुर्घटना से बचा सकता है। विभागीय अधिकारियों का कहना है कि बीते कुछ सालों में देखने में आया है कि सड़क दुर्घटना में सबसे ज्यादा शिकार बच्चे और युवा हुए हैं। इनमें अधिकांश स्कूल और कॉलेज के स्टूडेंट्स हैं।

ऐसे करा सकते हैं ट्रैफिक के कार्यक्रम

पुलिस की ओर से इन कार्यक्रम के लिए स्कूल और कॉलेज में कराया जाएगा। इसके लिए सबसे पहले सिटी सेंटर स्थित ट्रैफिक डीएसपी कार्यालय में आवेदन करना होगा। इसके बाद पुलिस विभाग द्वारा देखा जाएगा कि उस दिन किसी अन्य किसी अन्य शिक्षण संस्थान में कार्यक्रम और शहर में कोई बड़ा आयोजन तो नहीं है। इसको देखने के बाद ट्रैफिक पुलिस द्वारा तिथि और समय संबंधित संस्थान को दिया जाएगा। इसमें एक घंटे की स्पीच और एक घंटे की ट्रैफिक पर आधारित शॉर्ट मूवी को दिखाया जाएगा। इसके माध्यम से बताया जाएगा रफ्तार की होड़ के चक्कर में अधिकांश युवा सड़क हादसे का शिकार होते हैं।

छात्र-छात्राओं को जागरूक करने के लिए दिखाई जाएगी ट्रैफिक पर आधारित शॉर्ट मूवी

कंपू स्थित अलग-अलग स्कूलों के छात्र-छात्राओं को यातायात के नियमों की जानकारी देता पुलिसकर्मी।