ग्वालियर / स्वाइन फ्लू ने फिर दो की जान ली, 40 दिन में 6 की हो चुकी है मौत, 22 पॉजिटिव मिले

X

Mar 13, 2019, 05:02 PM IST

ग्वालियर। स्वाइन फ्लू के शिकार दो लोगों की मौत हो गई। इनमें एक महिला शामिल है। डीआरडीई में मंगलवार को स्वाइन फ्लू के 11 संदिग्ध मरीजों के सैंपल की जांच की गई जांच में 4 लोगों को स्वाइन फ्लू होने की पुष्टि हुई है। इन 4 मरीजों में जेएएच में 9 मार्च को मरने की वाली रजनी कुशवाह भी शामिल है। जबकि तारागंज निवासी राजकुमार की मौत बीते रोज दिल्ली के बीएल कपूर हॉस्पिटल में हुई। 

 

 

इन्हें मिलाकर जिले में 40 दिनों ( 1 फरवरी से आज तक) स्वाइन फ्लू से कुल 6 लोगों की मौत हो चुकी है। जबकि 22 मरीजों को स्वाइन फ्लू पॉजिटिव पाया गया है। तारागंज में जिस युवक की मौत स्वाइन फ्लू से हुई है उसके परिजन का कहना है कि परिवार में 35 सदस्य हैं लेकिन स्वास्थ्य विभाग की टीम सिर्फ 4-5 पत्ते टैमीफ्लू के देकर गई है। बार-बार मांगने पर भी दवा नहीं दी। तारागंज निवासी 42 वर्षीय रामकुमार गुप्ता को 22 फरवरी को स्वाइन फ्लू होने की आशंका चलते परिजन दिल्ली लेकर गए थे। बीते रोज इलाज के दौरान वहां उनकी मौत हो गई। उधर सीएमएचओ कार्यालय से स्वाइन फ्लूू के 11 संदिग्ध मरीजों के सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे। जांच में 4 मरीजों को स्वाइन फ्लू होने की पुष्टि हुई है। इन 4 मरीजों में से रजनी कुशवाह की मौत हो चुकी है। 

 

डॉक्टर मरीजों का तत्काल करें इलाज: कलेक्टर 
कलेक्टर अनुराग चौधरी ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को स्वाइन फ्लू की रोकथाम के पुख्ता प्रबंध करने को कहा है। उन्होंने मरीज का तत्काल इलाज करने आैर इलाज में किसी प्रकार की लापरवाही न बरतने के निर्देश भी दिए हैं। उन्होंने सीएमएचओ को निर्देश दिए हैं कि अस्पतालों में पर्याप्त मात्रा में दवाइयां व सामग्री उपलब्ध रहें। जिन 8 मेडिकल स्टोर्स को स्वाइन फ्लू की औषधि बेचने के लिए अधिकृत किया गया है, वे मरीज का पता सहित पूरा रिकॉर्ड रखें। 


यह लक्षण नजर आने पर डॉक्टर से लें परामर्श 
सर्दी-खांसी, तेज बुखार, गले में खराश , सांस लेने में तकलीफ होने पर तुरंत डॉक्टर को दिखाएं। मरीज जेएएच, जिला चिकित्सालय, बिडला हॉस्पिटल, माहेश्वरी नर्सिंग होम, सिम्स हॉस्पिटल, केएम एंड केडीजे हॉस्पिटल में स्क्रीनिंग करा सकते हैं। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना