Hindi News »Madhya Pradesh »Harda» 10 साल बाद भी, शहर में नहीं बन सके पार्किंग जोन

10 साल बाद भी, शहर में नहीं बन सके पार्किंग जोन

शहर की पार्किंग व्यवस्था को अमल में लाने में दस साल भी कम पड़ गए हैं। अफसरों के ट्रांसफर होते ही शहर विकास के...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 01, 2018, 04:40 AM IST

10 साल बाद भी, शहर में नहीं बन सके पार्किंग जोन
शहर की पार्किंग व्यवस्था को अमल में लाने में दस साल भी कम पड़ गए हैं। अफसरों के ट्रांसफर होते ही शहर विकास के प्रस्ताव भी फाइलों में ही कैद होकर रह जाते हैं। शहर की बेतरतीब पार्किंग को व्यवस्थित करने 10 साल पहले तत्कालीन कलेक्टर पुष्पलता सिंह ने शहर के 12 स्थान चिन्हित किए थे। उनके तबादले के बाद वे स्थान मूर्त रूप नहीं ले सके। बाद में तत्कालीन एसपी दीपक वर्मा ने भी जनता के साथ मिलकर पहल की। उनके ट्रांसफर के बाद फिर एक बार मामला ठंडे बस्ते में चला गया।

मनमानी पार्किंग से लोग विशेषकर युवतियों व महिलाओं को बेहद परेशानी होती है। सड़क किनारे ठेले लगाने वालों व दुकानदारों के बीच आए दिन झगड़े होते हैं। शहर के मुख्य बाजार घंटाघर पर पार्किंग के लिए केवल बड़ा मंदिर के पास ही जगह है। लेकिन त्योहार व सीजन में यहां जगह कम पड़ जाती है। घंटाघर के पास नो पार्किंग जोन है। पुलिस सहायता केंद्र है। नगर सुरक्षा समिति के जवान तैनात रहते हैं।

शहर में करीब 25 से ज्यादा बैंक शाखाएं हैं। लेकिन 95 फीसदी बैंकों के पास पार्किंग की सुविधा नहीं है। तत्कालीन सूबेदार एवं यातायात प्रभारी नीतेश वाइकर ने सभी बैंक प्रबंधकों को पत्र लिखकर पार्किंग इंतजाम को कहा था। उनके ट्रांसफर के बाद यह मामला भी आगे नहीं बढ़ा। एसबीआई मुख्य शाखा के अलावा अधिकांश बैंकों के पास पार्किंग की जगह नहीं है। वे किराए के कांप्लेक्स या अन्य जगहों पर बीच मार्केट में संचालित हो रही हैं।

बाजार और बैंकों के सामने ट्रैफिक हुआ बेपटरी

हरदा। टाउन हाल के सामने पीएनबी के पास भी पार्किंग सुविधा नहीं।

यहां बनना था पार्किंग जोन

नार्मदीय धर्मशाला टाउन हाल के पास नया बस स्टैंड क्षेत्र बड़ा मंदिर चौक शिवाजी चौक नई सब्जी मंडी जत्रापड़ाव नेहरू स्टेडियम चौक परशुराम चौक।

कार्रवाई करेंगे

नो पार्किंग में पार्किंग करके व्यवस्था बिगाड़ने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। सड़क पर सामान रखने वालों का सामान जब्त करने के पहले से ही निर्देश दे रखे हैं। पार्किंग के लिए आइल पेंट से लाइन भी नपा से डलवाई है। अनय द्विवेदी, कलेक्टर हरदा

घंटाघर बाजार में व्यवस्था बनाने के लिए यातायात पुलिस की ड्यूटी लगाई जाती है। त्योहारी सीजन में भीड़ बढ़ती है। सड़क पर ठेले लगाकर व्यवस्था बिगाड़ने वालों पर कार्रवाई करेंगे। रोहित कछावा, यातायात प्रभारी हरदा

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Harda

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×