• Home
  • Madhya Pradesh News
  • Harda News
  • Harda - जिले के किसानों को यौगिक खेती का निशुल्क दिया प्रशिक्षण
--Advertisement--

जिले के किसानों को यौगिक खेती का निशुल्क दिया प्रशिक्षण

किसानों को यौगिक खेती व व्यसन मुक्ति का दिलाया संकल्प भास्कर संवाददाता|हरदा प्रजापिता ब्रह्माकुमारी...

Danik Bhaskar | Sep 12, 2018, 03:16 AM IST
किसानों को यौगिक खेती व व्यसन मुक्ति का दिलाया संकल्प

भास्कर संवाददाता|हरदा

प्रजापिता ब्रह्माकुमारी संस्थान जिले के किसानों को यौगिक खेती का निशुल्क प्रशिक्षण दे रहा है। यौगिक खेती पूरी तरह जैविक खाद पर आधारित है। इसे राजयोग से जोड़ दिया है। किसानों को आर्थिक तौर मजबूर बनाने के लिए संस्थान जिले में किसान सशक्तिकरण अभियान चला रहा है। इसके तहत रथ गांवों का भ्रमण कर रहा है। यह बात गांवों में आयोजित किसान शक्तिकरण कार्यक्रम में संस्थान के वक्ताओं ने कही। इस दौरान रथ पोखरनी, करताना, गोंदागांव कलां, अबगांव, रहटगांव, पानतलाई, सोहागपुर, बालागांव, कनारदा में पहुंचा। इन गांवों में किसान सशक्तिकरण पर कार्यक्रम हुए। इसमें किसानों को यौगिक खेती व व्यसन मुक्ति का संकल्प दिलाया। इस बीच गांवों में आध्यात्मिक चरित्र प्रदर्शनी लगाई। अभियान में दिल्ली से आईं रचना बहन ने कहा जीवन के हर क्षेत्र में नैतिक मूल्यों की गिरावट आई है। पहले किसान बोवनी के पहले पूजा करते थे, अब यह संस्कार गुम होते जा रहे हैं। रासायनिक खाद से मिट्टी की उर्वरा शक्ति कम हो रही है। जमीन को बचाने के लिए किसानों को जैविक-योगिक खेती की ओर लौटना होगा। राजेंद्र जालना ने कहा यौगिक खेती एक नई पद्धति है। यह विचारों और सकारात्मक चिंतन पर आधारित है। इसमें ऑर्गेनिक खाद का ही उपयोग किया जाता है। राजयोग के माध्यम से शुभ प्रकंपन देते हैं। इसका पूरा प्रशिक्षण ब्रह्माकुमारी संस्थान में निशुल्क दिया जाता है।