Hindi News »Madhya Pradesh »Harda» लाडो टीम ने बाल विवाह के बताए नुकसान, रुकी शादी

लाडो टीम ने बाल विवाह के बताए नुकसान, रुकी शादी

बाल विवाह से किशोरी व किशोर की सेहत व उनसे जन्म लेने वाले बच्चों में पैदा होने वाली बीमारियों को लेकर लाडो अभियान...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 17, 2018, 03:20 AM IST

लाडो टीम ने बाल विवाह के बताए नुकसान, रुकी शादी
बाल विवाह से किशोरी व किशोर की सेहत व उनसे जन्म लेने वाले बच्चों में पैदा होने वाली बीमारियों को लेकर लाडो अभियान के तहत वार्ड 32 में सोमवार को नुक्कड़ नाटक का आयोजन हुआ। बाल विवाह बिचौलिए द्वारा तय कराया था। अखबार में खबर छपने पर पुलिस मौके पर पहुंची। दोनों परिवारों को नुकसान बताए। इसमें शामिल लोगों को कानून के प्रावधान अनुसार दंडित किया।

नुक्कड़ नाटक में बताया बाल विवाह संपन्न होने ही वाला था, तभी मीडियाकर्मी के साथ परियोजना अधिकारी व पुलिस मौके पर पहुंची। परियोजना अधिकारी ने दुल्हन व दूल्हे के माता-पिता काे बाल विवाह के नुकसान बताए। यह भी समझाया कि कम उम्र में गर्भ धारण करने से बच्चे के मानसिक व शारीरिक विकास पर प्रतिकूल असर पड़ता है। बच्चा कुपोषित होने की संभावना रहती है। प्रसव के दौरान जान जाने की आशंका ज्यादा रहती है। दूल्हा पूरी तरह परिपक्व नहीं होने से वह सामाजिक व पारिवारिक जिम्मेदारियां नहीं निभा पाता है। उम्र कम होने से पढ़ाई भी पूरी नहीं हो पाती है। इससे रोजगार के अवसर कम होते हैं। वर-वधु के माता-पिता ने अपनी मजबूरी बताई। परियोजना अधिकारी ने बाल विवाह के जुर्म में दो साल की सजा व एक लाख जुर्माने की जानकारी दी। बाल विवाह में अपनी सेवाएं देने वाले, टेंट, बैंड, घोड़ी, हलवाई, पार्लर, प्रिंटिंग प्रेस वालों को भी कलेक्टर एसपी की अनुमति से दंडित करने का नाटक में प्रभावी मंचन किया। नाटक के अंत में सभी को संकल्प दिलाया कि वे अपने आसपास होने वाले बाल विवाह की सूचना प्रशासन को देंगे। इसके लिए सरकारी अफसरों व टीम के नंबर दिए।

जागरूकता

शहर के वार्ड 32 में बच्चों ने नुक्कड़ नाटक से दिया संदेश, दो साल सजा व एक लाख जुर्माने की जानकारी भी दी

हरदा। बाल विवाह रोकने नुक्कड़ नाटक की प्रस्तुति देते हुए कलाकार

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Harda

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×