दोबारा तौल में 7.80 क्विंटल ज्यादा निकली उपज, लेकिन विभाग ने जांच में धर्मकांटे काे सही बताया

Harda News - कृषि उपज मंडी में लगे श्रीराम धर्मकांटे पर एक दिन पहले ताैल में 36 क्विंटल 35 किलाे सोयाबीन निकला था। जब किसान शंका...

Dec 04, 2019, 10:51 AM IST
Timarni News - mp news again weights yield more than 780 quintals but the department said the investigation proved correct
कृषि उपज मंडी में लगे श्रीराम धर्मकांटे पर एक दिन पहले ताैल में 36 क्विंटल 35 किलाे सोयाबीन निकला था। जब किसान शंका हुई ताे उसने मंडी प्रबंधन काे शिकायत करते हुए तत्काल छाेटे इलेक्ट्रानिक कांटे से ताैल कराया ताे सोयाबीन 44 क्विंटल 15 किलाे निकला। इस प्रकार किसान काे 7 क्विंटल 80 किलाे की चपत लग रही थी। वहीं बड़ी बात ताे यह कि नापताैल विभाग की जांच में वही धर्मकांटा बिलकुल सही बता दिया गया।

कृषि उपज मंडी स्थित श्रीराम धर्मकांटे में सोमवार एक किसान की सोयाबीन कम निकलने के बाद कांटे की जांच के लिए मंगलवार को नापतौल विभाग की टीम पहंुची। विभाग की अधिकारी नीता ठाकुर, कर्मचारियों ने मंडी सचिव नरेंद्र मेश्राम की उपस्थिति में धर्मकांटे की जांच की। दोपहर करीब 1 बजे शुरू हुई जांच एक घंटे चली। इस दौरान कांटे का उपयोग बंद था। विभाग की अधिकारी ठाकुर ने बताया कि धर्मकांटा सही है। इसमें किसी तरह की कोई गड़बड़ी नहीं है। जबकि छोटे इलेक्ट्रिक कांटे से सोयाबीन की 50 किलो कट्टी में दोबारा जांच की तो 7 क्विंटल 80 किलो सोयाबीन अधिक निकली। किसान का दावा सही निकला। जबकि जांच में अधिकारियों ने धर्मकांटे को सही बताया। जाे जांच पर संदेह पैदा करता है।

एक घंटे की जांच के बाद कांटे को शुरू किया

टिमरनी। कृषि उपज मंडी परिसर स्थित श्रीराम धर्मकांटा की जांच करते हुए।

यह है मामला : नयागांव निवासी किसान गोविंद पाटिल ट्राॅली में सोयाबीन बेचने आया। सुबह 11 बजे सोयाबीन की नीलामी हुई। जाे 3567 रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब से बिका। किसान ने 30 मिनट बाद मंडी स्थित श्रीराम धर्मकांटे पर सोयाबीन का तौल कराया। ट्रैक्टर ट्रॉली सहित वजन 75 क्विंटल 60 किलो निकला। सोयाबीन खाली करने के बाद खाली ट्रैक्टर ट्रॉली का वजन 39 क्विंटल 25 किलाे निकला, घटाने पर किसान की कुल फसल 36 क्विंटल 35 किलाे निकली। इसी वजन को लेकर किसान को शंका हुई ताे उसने मंडी प्रबंधन को शिकायत की। तब मंडी निरीक्षक व प्रांगण प्रभारी शैलेष दीक्षित व्यापारी स्टाॅक के पास पहंुचे। किसान सोयाबीन की दोबारा तुलाई की जिद पर अड़ गया। इसके बाद सोयाबीन की दोबारा तुलाई छाेटे इलेक्ट्रानिक कांटे पर कराई। इस दौरान 7 क्विंटल 80 किलो सोयाबीन अधिक निकली। इसकी कीमत करीब 27 हजार रुपए थी। किसान को सोयाबीन कम निकलने की जो शंका हुई थी वह सही साबित हुई। इसके बाद व्यापारी ने बढ़ी हुई सोयाबीन की राशि किसान को दी।

पहले भी पानी भरने पर 15 दिन बंद रहा था यही धर्मकांटा

मंडी में 50 किलो की कट्टी में सोयाबीन का तौल शुरू होने के बाद आवक भी बढ़ने लगी है। सोमवार को मंडी में 748 किसान उपज बेचने आए। 4528 बोरे सोयाबीन की आवक थी। मालूम हो, इस धर्मकांटे की जांच 26 दिसंबर 2018 को हुई थी। साल में एक बार जांच होती है। नियम के अनुसार कांटे की जांच इसी माह की 26 तारीख को होना चाहिए। अब देखना होगा कि जांच होती है या नहीं। इसी कांटे में बारिश के दौरान भारी बारिश से पानी भरा गया था। इस दौरान 15 दिन कांटा बंद रहा है। इसके बाद इसका पानी सुखाकर दोबारा शुरू कराया था।

हमने धर्मकांटे की जांच कराई है वह सही निकला है


X
Timarni News - mp news again weights yield more than 780 quintals but the department said the investigation proved correct
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना