मंदिरों अाैर गुरुद्वारों में लगेंगे रूफ वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम, प्रार्थना और सभा में करेंगे पर्यावरण संरक्षण का आह्वान

Harda News - शहर के मंदिरों व गुरुद्वारों में रूफ वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगेगा। इसके लिए मंदिर के पंडितजी व गुरुद्वारे के...

Bhaskar News Network

Jun 14, 2019, 07:40 AM IST
Harda News - mp news environmental protection call in temples and gurudwaras will be done in roof water harvesting system prayer and gathering
शहर के मंदिरों व गुरुद्वारों में रूफ वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगेगा। इसके लिए मंदिर के पंडितजी व गुरुद्वारे के ज्ञानीजी पहल करेंगे। दोनों प्रार्थना सभाओं में भी लोगों से हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाने का आह्वान करेंगे, ताकि शहर का भूजल स्तर बढ़ाया जा सके। मालूम हो, दैनिक भास्कर ने 8 जून के अंक में 533 भवन मालिकों से रुपए जमा करा लिए एक में भी नहीं लगा बरसाती पानी को जमीन में उतारने का सिस्टम शीर्षक से प्रमुखता से खबर प्रकाशित की थी। इसके बाद से नपा ने अपने दफ्तर में रूफ वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाने की कार्रवाई शुरू कर दी है। अब धर्म गुरु भी जल संकट को लेकर फिक्रमंद हैं। वे मंदिर व गुरुद्वारों में भी हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाने के लिए आगे आए हैं।

उनका कहना है कि जो हम प्रकृति से ले रहे हैं, उसे लौटाना भी हमारा कर्तव्य है। जल संरक्षण के साथ ही वे पौध रोपण पर भी जोर देंगे।

मंदिरों में लगाएंगे रूफ वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम

सिद्धवीर हनुमान मंदिर के पुजारी ज्योतिषाचार्य पंडित मुरलीधर व्यास ने कहा कि प्रकृतिक को बचाना हमारा कर्त्तव्य है। हमारे धर्म में कण-कण में भगवान का वास माना गया है। अत्यधिक दोहन के कारण जलस्तर नीचे जा रहा है। इससे जल संकट खड़ा हो गया है। पानी की व्यर्थ बर्बादी रोकना हमारा कर्तव्य है। पंडित व्यास ने कहा कि वे जल संरक्षण की शुरुआत मंदिर से करेंगे। मंदिर में रूफ वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाया जाएगा। इसके अलावा वे प्रार्थना व धर्मसभाओं में भी लोगों से पानी बचाने का आग्रह करेंगे। लोगों को अपने-अपने घरों में रूफ वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगवाने के लिए प्रेरित करेंगे।

गुरुद्वारों से शुरू करेंगे मुहिम: ज्ञानीजी

रेलवे स्टेशन के सामने स्थित गुरुद्वारे के ज्ञानी जसप्रीत सिंह कहते हैं कि सिख समाज हर मोर्चे में हमेशा आगे रहा है। जल संरक्षण में भी समाज के लोग भूमिका निभाएंगे। इसकी शुरुआत गुरुद्वारे से होगी। धर्मसभा में आने वाले श्रद्धालुओं को अपने घरों में गिरते भूजल स्तर को बढ़ाने के लिए रूफ वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम लगाने का संकल्प दिलाया जाएगा। इसके अलावा से पानी की बर्बादी रोकने का भी आह्वान किया जाएगा।

X
Harda News - mp news environmental protection call in temples and gurudwaras will be done in roof water harvesting system prayer and gathering
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना