• Hindi News
  • Mp
  • Harda
  • Harda News mp news the manure going to banapura is distributed to the marketing society under the supervision of the police till 3 pm

बानापुरा जाने वाला खाद राेका, पुलिस की निगरानी में मार्केटिंग सोसाइटी से रात तीन बजे तक बांटा

Harda News - खाद की कमी ने किसानों और अधिकारियों की नींद खराब कर दी है। सोमवार रात को मार्केटिंग सोसाइटी में रात 3 बजे तक पुलिस...

Dec 04, 2019, 08:45 AM IST
खाद की कमी ने किसानों और अधिकारियों की नींद खराब कर दी है। सोमवार रात को मार्केटिंग सोसाइटी में रात 3 बजे तक पुलिस की निगरानी में खाद बांटा गया। यहां से बानापुरा जाने वाली 700 टन यूरिया की खेप रोकी दी है। इसमें से 580 टन खाद सोमवार को बांटा गया। यह उन किसानों को दिया गया, जो रविवार को दिनभर लाइन में लगकर यूरिया मिलने का इंतजार करते रहे। सोमवार को माल गोदाम के सामने जाम लगाने के बाद प्रशासन ने खाद की किल्लत दूर करने 20 हजार मीट्रिक टन की डिमांड और भेजी है। 17 हजार हेक्टेयर गेहूं का रकबा बढ़ने व बड़े किसानों द्वारा पूरे सीजन का एक साथ स्टॉक कर लेने के कारण भी अभी किल्लत बढ़ी है। वितरण में विसंगति से भी किसान व पुलिस परेशान हो रहे हैं।

32800 मीट्रिक टन बांटा, 20 हजार मीट्रिक टन और मांगा

रकबे के मान से 37 हजार मीट्रिक टन की डिमांड भेजी थी। 32800 मीट्रिक टन मिल चुका है। 4200 मीट्रिक टन आना शेष है। सोमवार को किसानों के जाम के बाद 20 हजार मीट्रिक टन की डिमांड और भेजी है। कलेक्टर ने भी मंगलवार को एमडी व पीएस से बातचीत की।

1.67 लाख हेक्टे. में होगी गेहूं की बाेवनी, इस मान से चाहिए 37,000 मीट्रिक टन

हरदा। मार्केटिंग सोसाइटी से पुलिस की मौजूदगी में रात में यूरिया किसानों को बांटते हुए। दूसरी फोटो में ट्रक से खाद की बोरी उतारते हुए।

प्रभारी मंत्री से मिले कांग्रेस जिलाध्यक्ष

कांग्रेस जिलाध्यक्ष एलएन पवार मंगलवार को प्रभारी मंत्री पीसी शर्मा से मिले। खाद व बिजली को लेकर चर्चा की। उन्होंने कहा कि कुछ क्षेत्रों में जल स्तर कम है। वहां रात में 4 दिन में 6 घंटे बिजली दें। खाद बांटने की विसंगतियां दूर की जाएं। नहर सिंचित क्षेत्रों में 15 दिन में सप्लाई शिफ्ट बदली जाए। शर्मा ने 3 दिन में कार्रवाई का विश्वास दिलाया।

यह हो सकता है विकल्प

गेहूं, मक्का, चना की बोवनी हो चुकी है। पटवारी यदि किसान की ऋण पुस्तिका पर हर फसल का रकबा दर्ज कर दे तो सोसाइटी से उस रकबे के अनुपात में खाद बांटकर सभी को दे सकता है। लेकिन ऐसा नहीं हो रहा है। एेसे में किसान पूरा रकबा गेहूं का बताकर प्रति एकड़ दो बोरी के मान से खाद ले रहे हैं। इस वजह से छोटे किसानों को पहली बार की जरूरत की खाद के लिए भी अब भटकना पड़ रहा है।

चौकड़ी और डबल लॉक का निरीक्षण किया


शिकायत पर दाेषी पर कार्रवाई करेंगे


560 बोरी खाद आया, 300 किसानों को बंटा 260 को आज मिलेगा

सोडलपुर|
सोसाइटी में 560 बोरी खाद आया था। मंगलवार को 300 किसानों को बंटा। 260 को बुधवार 11 बजे से बंटेगा। रविवार को 440 बोरी खाद आया, जो पूरा बंट गया। सोमवार को 560 बोरी में से सिर्फ 300 बोरी बंटा था। शेष बुधवार को बंटेगा। खाद के लिए सुबह 4 बजे सर्द हवा के बीच किसान लाइन में लग गए थे। सुबह 8 बजे 530 नाम लिखे गए। 10 बजे से वितरण हुआ। प्रबंधक मनोज नायर ने बताया कि एक ऋण पुस्तिका पर एक बाेरी ही दिया जा रहा है।

3 हजार बाेरी की डिमांड, अाया 1120 बाेरी यूरिया

चारखेड़ा|
आदिम जाति सेवा सहकारी समिति मनियाखेड़ी सोसाइटी प्रबंधक श्रवण कुमार लोमारे ने बताया कि 3000 बाेरी खाद की मांग थी। इसमें से 1120 बोरी मिली। अभी 800 किसानों को खाद बांटना है। अभी प्रति एकड़ एक बोरी खाद दिया जा रहा है। किसानों के अनुसार प्रति एकड़ 3 बोरी की जरूरत है।

X

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना