--Advertisement--

नलों से आ रहा गंदा पानी, लोगों के स्वास्थ्य से हो रहा खिलवाड़

Harda News - नगर परिषद के पास फिल्टर प्लांट की सुविधा नहीं है। इस वजह से नागरिकों को गंदा पानी पीना पड़ रहा है। बीते दिनों से शहर...

Dainik Bhaskar

Dec 09, 2018, 05:05 AM IST
Timarni News - nasty water coming from the tapes the flowing of people39s health
नगर परिषद के पास फिल्टर प्लांट की सुविधा नहीं है। इस वजह से नागरिकों को गंदा पानी पीना पड़ रहा है। बीते दिनों से शहर के कुछ वार्डों के लोग सरकारी नलों से गंदा पानी आने की शिकायत कर रहे हैं। लोगों का कहना है उन्हें मजबूरन गंदा पानी पीना पड़ रहा है। परिषद शहर में पानी की सप्लाई पानी की टंकी, पुराने कुओं व ट्यूबवेल के माध्यम से करती है। सप्लाई से पहले टंकी भरी जाती है, फिर पानी की सप्लाई शुरु होती है। कुओं और ट्यूबवेल को भी पाइप लाइन से जोड़ा है। जिन जगहों पर पानी का फोर्स कम है, वहां पानी आसानी से पहुंच सके।

नगर के रेलवे लाइन पार बसे वार्ड एक, दो तिरक्यान बाबा वार्ड में नप की पाइप लाइन नहीं है। जबकि 13 वार्डों में पाइप लाइन है। पाइप लाइन से बिना फिल्टर किया पानी घरों तक पहुंचाया जा रहा है। वार्ड एक और दो में रहने वाले कुछ परिवारों के पास निजी ट्यूबवेल हैं। जो गर्मी में भूमिगत जल का स्तर गिर जाने से बंद हो जाते हैं। वार्डवासियों की मांग पर नप टैंकरों से वार्डों में पेयजल सप्लाई करती है। पिछले साल गर्मी में वार्डों में रहने वाले परिवारों को उनकी मांग के अनुसार पानी का वितरण किया था। वर्तमान में नलों के माध्यम से पेयजल की सप्लाई की जा रही है। नगर में 8 बोरिंग और 3 कुओं से पेयजल की सप्लाई की जाती है। पेयजल सप्लाई के लिए नपं के पास 8 पानी के टैंकर हैं। नगर के 15 वार्डों में से किसी भी वार्ड में पेयजल संकट गहराने पर टैंकरों के से वार्डों में पेयजल पहुंचाया जाता है। नगर परिषद पानी के टैंकर के पेयजल के लिए 75 रुपए, निर्माण कार्य में उपयोग के लिए 450 रुपए शुल्क लेती है।

टिमरनी। टंकी, जहां से शहर में पानी सप्लाई किया जाता है।

सालों पुरानी पाइप लाइन से सप्लाई

शहर में नल से इन दिनों गंदा पानी आ रहा है। इस कारण लोग छानकर पानी उपयोग में ले रहे हैं। लोगों का कहना है शहर में नगर परिषद सालों पुरानी पाइप लाइन से सप्लाई कर रही है। कई जगह यह पुरानी पाइप लाइन खराब हो गई है। अधिकांश पाइप लाइन नालियों में है। घरों तक पानी के साथ गंदगी भी पहुंच रही है। परिषद ने सालों पुरानी पाइप लाइन बदले की कोई योजना नहीं बनाई है। गर्मी के समय में कई बार पानी में नारू कीड़े निकलते हैं। वार्ड 6, 7, 8 के नागरिक गुलाबदास, राजू, भूरू, सौरभ, दीपक, जितेंद्र ने बताया वार्डों में बिछी पुरानी पाइप लाइन क्षतिग्रस्त है। नलों में गंदा पानी आता है। ब्लीचिंग पाउडर के अलावा नप को पानी के फिल्टर की व्यवस्था करनी चाहिए।

ब्लीचिंग पावडर डालकर सप्लाई

नगर में पानी की तीन टंकियों से पेयजल सप्लाई किया जाता है। पानी फिल्टर करने की नगर पंचायत के पास कोई व्यवस्था नहीं है। जबकि स्वच्छ पेयजल स्वच्छ भारत अभियान में आता है। फिल्टर की बजाय नप ब्लीचिंग पावडर डालकर पेयजल की सप्लाई करती है। समय-समय पर पीएचई विभाग से पानी की टेस्टिंग भी कराई जाती है। शहर के सभी वार्डों में पानी की सप्लाई प्रतिदिन सुबह शाम डेढ़-डेढ़ घंटे की जाती है।

पाइप लाइन खोदी जा रही है


X
Timarni News - nasty water coming from the tapes the flowing of people39s health
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..