Hindi News »Madhya Pradesh »Hata» पीएस ने ली कार्य प्रगति की जानकारी, रिंग रोड पर भी की चर्चा

पीएस ने ली कार्य प्रगति की जानकारी, रिंग रोड पर भी की चर्चा

कमाण्ड एण्ड कंट्रोल सेंटर जल्द बनाकर शुरू करें भास्कर संवाददाता| जबलपुर स्मार्ट सिटी के तहत किए गए कार्यों पर...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 18, 2018, 02:20 AM IST

कमाण्ड एण्ड कंट्रोल सेंटर जल्द बनाकर शुरू करें

भास्कर संवाददाता| जबलपुर

स्मार्ट सिटी के तहत किए गए कार्यों पर नियंत्रण और नजर रखने के िलए बनाए जा रहे कमाण्ड एण्ड कंट्रोल सेंटर की कार्य प्रगति की समीक्षा करते हुए प्रमुख सचिव विवेक अग्रवाल ने कहा िक इस सेंटर का निर्माण जल्द समय पर करा कर इसे शुरू करें, ताकि सभी कार्यों को आसानी से नियंत्रित िकया जा सके। शनिवार को विभिन्न विभागों के अधिकारियों की बैठक में पीएस श्री अग्रवाल ने दयोदय से ग्वारीघाट तक स्मार्ट सिटी के तहत बनने वाली रिंग रोड पर भी चर्चा की और इसकी डीपीआर जल्दी तैयार कर प्रोजेक्ट को प्रारंभ करने की बात कही। उन्होंने अरबन सेक्टर में नगर निगम, निगम पालिक, हाउसिंग बोर्ड, जेडीए सभी को आपस में समन्वय बनाकर चलने की बात भी कही।

स्मार्ट सिटी के सीईओ गजेन्द्र सिंह नागेश ने बताया िक पीएस द्वारा दोनों ही प्रोजेक्टों को िजसमें प्रमुख रूप से कमाण्ड एण्ड कंट्रोल सेंटर का काम समय पर कराने और इसे स्मार्ट सिटी की तीसरी वर्षगांठ के पहले शुरू करने की बात कही है। उन्होंने बताया िक इस सेंटर के िलए चण्डालभाटा में जमीन खाली कराई जा रही है, जहां इसका िनर्माण कराया जाएगा। जमीन खाली कराने के िलए वहां काबिज जिन अतिक्रमणों को हटाना है, उनकी सूची तैयार कर ली गई है। इनमें करीब 9 मकान हैं, िजनमें दो पक्के और बाकी कच्चे मकान शामिल हैं।

अभी मानस भवन में है ऑफिस: स्मार्ट सिटी के तहत होने वाले कामों पर निगरानी रखने, िनयंत्रित करने के साथ मेट्रों बसों, ट्रैफिक, डोर टू डोर कचरा कलेक्शन व्यवस्था आदि के िलए कमाण्ड एण्ड कंट्रोल सेंटर को अस्थाई तौर पर बनाया गया है। वर्तमान में यह सेंटर स्मार्ट सिटी ऑफिस के एक हॉल में संचालित हो रहा है। इस सेंटर को स्थायी रूप से चण्डालभाटा में बनाया जाना है, िजसके िलए नगर िनगम प्रशासन द्वारा प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

हो चुका है ड्रोन सर्वे

स्मार्ट िसटी के तहत दयोदय से ललपुर, ग्वारीघाट तक रिंग रोड का िनर्माण होना है। इस रोड को नर्मदा दर्शन पथ नाम दिया गया है। नगर िनगम द्वारा नवम्बर माह में इसके िलए ड्रोन सर्वे भी करा लिया गया है। सर्वे के बाद इस रोड की डीपीआर बनाने की प्रक्रिया चल रही है, िजसे प्लानर्स इण्डिया बना रही है। डीपीआर बनने के बाद टैण्डर की प्रक्रिया की जाएगी। यह रिंग रोड करीब 6 किलोमीटर लंबी और 60 मीटर चौड़ी है, जो स्मार्ट सिटी के तहत लगभग Rs.160 करोड़ की लागत से बनाई जाएगी। इस दौरान नर्मदा किनारे से 300 मीटर की दूरी तक किसी भी प्रकार का निर्माण न हो इसका विशेष ध्यान रखा गया जाएगा। पी-4

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Hata

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×