Hindi News »Madhya Pradesh »Hata» आरोपी पर पास्को एक्ट न लगे, इसलिए पुलिस ने नाबालिग को बना दिया बालिग, पीड़िता पक्ष के विरोध के बाद आरोपी को भेजा जेल

आरोपी पर पास्को एक्ट न लगे, इसलिए पुलिस ने नाबालिग को बना दिया बालिग, पीड़िता पक्ष के विरोध के बाद आरोपी को भेजा जेल

नोहटा पुलिस नाबालिग छात्राओं से छेड़छाड़ जैसे मामले की विवेचना में गंभीर नहीं है। ऐसे ही एक मामले में पुलिस की गंभीर...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 08, 2018, 02:35 AM IST

नोहटा पुलिस नाबालिग छात्राओं से छेड़छाड़ जैसे मामले की विवेचना में गंभीर नहीं है। ऐसे ही एक मामले में पुलिस की गंभीर लापरवाही सामने आई है। जिसमें 1 मार्च का कछवारे में पेपर देकर घर लौट रही छात्रा से युवक के द्वारा छेड़छाड़ की गई थी।

जिसमें पुलिस के द्वारा नाबालिक छात्रा से हुई छेड़छाड़ के मामले में छात्रा को बलिक बताया गया। हैरानी की बात तो यह है कि परिजनों द्वारा थाना प्रभारी को छात्रा की उम्र को प्रमाणित करने के लिए जरूरी दस्तावेज कक्षा दसवीं की अंकसूची व आधार कार्ड भी दिए गए, जिसमें छात्रा को बलिग होने में अभी चार माह का समय बाकी है, लेकिन परिजनों को छात्रा की शादी नाबालिक होने करने का डर दिखाकर नाबालिक की शादी करने के आरोप में परिजनों को जेल भेजने की धमकी दी गई। जिससे परिजन डर गए। इसक बाद थाना प्रभारी द्वारा नाबालिग को बालिग बताते हुए आरोपी पर कम धाराओं के तहत मामला दर्ज किया। महत्वपूर्ण बात तो यह है कि यदि नाबालिग के साथ छेड़छाड़ होती है तो आरोपी पर पास्को एक्ट के तहत मामला दर्ज होता है, जिसमें आरोपी पर गैर जमानती व गंभीर अपराध की धाराएं लगती हैं, लेकिन आरोपी को बचाने के लिए पुलिस द्वारा जानबूझकर छात्रा को बालिग दर्शाया गया, ताकि उस पर पास्को एक्ट न लगे। वहीं परिजनों आरोप है कि कम धाराएं लगने से आरोपी जमानत मिलने की पूरी गंुजाइश है। ऐसे में वह परिजनों पर दबाव भी बना सकता है। पुलिस की इस कार्यप्रणाली पर सवालिया निशान उठाए जा रहे हैं। साथ साथ ही पुलिस की विवेचना भी सवालों के घेरे में है। परिजनों का कहना है कि इस मामले की जांच वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा की जाती है तो नोहटा थाना प्रभारी द्वारा किए गए इस गंभीर अपराध की हकीकत सबके सामने आ जाएगी।

...तो धाराएं बढ़ा दी जाएंगी

छात्रा विवाहिता है अपनी उम्र 19 साल रिपोर्ट लिखवाने के दौरान बता रही थी। यदि छात्रा नावलिग है तो अभी मामला विवेचना में है जिसके चलते पास्को एक्ट की धाराएं बढ़ा दी जाएंगी। - केसी पाली, एसडीओपी

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Hata

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×