हटा

  • Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Hata News
  • सरकार को 1857 की क्रांति याद दिलाने के लिए आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने झांसी की रानी बनकर निकाली लाठी यात्रा
--Advertisement--

सरकार को 1857 की क्रांति याद दिलाने के लिए आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने झांसी की रानी बनकर निकाली लाठी यात्रा

हटा| ग्राम सोजना में गुरुवार को महिला सशक्तिकरण कार्यक्रम जनसंवाद का आयोजन किया गया। जिसमें टीआई प्रदीप सोनी एवं...

Dainik Bhaskar

Mar 09, 2018, 03:05 AM IST
सरकार को 1857 की क्रांति याद दिलाने के लिए आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने झांसी की रानी बनकर निकाली लाठी यात्रा
हटा| ग्राम सोजना में गुरुवार को महिला सशक्तिकरण कार्यक्रम जनसंवाद का आयोजन किया गया। जिसमें टीआई प्रदीप सोनी एवं पीएसआई रजनी समाधिया मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद थीं। कार्यक्रम में महिलाओं का सम्मान किया गया।

टीआई प्रदीप सोनी ने कहा कि अमेरिका और रूस में महिलाओं को अपने सम्मान और अधिकार के लिए लड़ाई लड़नी पड़ी, लेकिन भारत में आदिकाल से महिलाओं को देवी माना जाता है। यहां यत्र नार्यस्तु रमंते तत्र देवता का भाव है। समाजसेवी सुशील व्यास ने कहा कि हमारे देश की रक्षा मंत्री, विदेश मंत्री और लोकसभा स्पीकर भी महिला हैं। हमारे देश में तो हमेशा से महिलाओं को सम्मान मिला है, देवताओं ने भी संकट की दशा में शक्ति की शरण ली है। पीएसआई रजनी समाधिया ने कहा कि भारत के विशिष्ट पदों पर आज हमारी माताएं बहनें विराजमान हैं और पद की गरीमा को बढ़ाते हुए बड़े व महत्वपूर्ण फैसले ले कर हम सभी को गौरवान्वित कर रही हैं। कार्यक्रम में सरपंच गणेश पटेल, राम मुखरैया, विद्यारानी व्यास, सियारानी पटेल, अनीता अठ्या, कुसुमरानी, गुलाबबाई, सीता सुनीता सहित बड़ी संख्या में महिलाएं मौजूद थीं।

आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं काली वस्त्र पहनकर लाठी यात्रा निकाली और एसडीएम को ज्ञापन सौंपा।

अधिवक्ताओं ने कहा हटा में ही चाहिए मेडिकल कॉलेज, संघ ने एसडीएम को सौंपा ज्ञापन

भास्कर संवाददाता| हटा

नगर में मेडिकल कॉलेज खोलने की मांग को लेकर अधिवक्ता संघ के द्वारा गुरूवार को एक ज्ञापन एसडीएम को सौंपा गया। ज्ञापन में बताया गया कि हटा विधानसभा क्षेत्र तीन संसदीय क्षेत्र का केंद्र बिंदु है।

यहां सभी संसाधन उपलब्ध हैं, क्षेत्र के पिछड़ापन को देखते हुए यहां यदि मेडिकल कॉलेज प्रारंभ किया जाता है तो लोगों को रोजगार के अवसर एवं चिकित्सा के क्षेत्र में भी बड़ी उपलब्धि होगी। सभी अधिवक्ता सिविल न्यायालय से रैली निकालकर एसडीएम कार्यालय पहुंचे, जहां एसडीएम नारायण सिंह को ज्ञापन दिया। इस अवसर पर अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष सीएम चौरसिया, सचिव अमिताभ चतुर्वेदी, कपिल सिंह गौर, पवन सिंह, अनिल प्रकाश मिश्रा, राजेश सेन, स्वामी श्रीकांत तिवारी, एचएस कोरी, हरेंद्र जैन, कंदर्प त्रिवेदी, डीपी पटेल, रहीस कुरैशी, योगेश तिवारी, प्रमोद श्रीवास्तव उपस्थित रहे।

X
सरकार को 1857 की क्रांति याद दिलाने के लिए आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने झांसी की रानी बनकर निकाली लाठी यात्रा
Click to listen..