हटा

--Advertisement--

भास्कर संवाददाता| हटा

भास्कर संवाददाता| हटा वर्ष2017 में अल्प वर्षा के कारण अब नगर में पानी का संकट अभी से दिखाई देने लगा है। नगर की नई जल...

Dainik Bhaskar

Jan 05, 2018, 03:35 AM IST
भास्कर संवाददाता| हटा

वर्ष2017 में अल्प वर्षा के कारण अब नगर में पानी का संकट अभी से दिखाई देने लगा है। नगर की नई जल आवर्धन वाली पानी की टंकी लोगों को सफेद हाथी की तरह चिड़ा रही है। अब 26 करोड़ की नई पेयजल योजना वाली लालीपाप नगर वासियों को दिखाई जाने लगी है। प्रशासन के द्वारा बार-बार यह कहा जा रहा है कि नई जल आवर्धन योजना से नगर के सभी वार्डों में पानी जाने लगा है।

नगर का जलस्तर तेजी दिन प्रतिदिन घट रहा है। इस घटते हुए जलस्तर को लेकर प्रशासन के द्वारा किसी भी प्रकार की कोई चिंता व्यक्त नहीं की गई है ही आने वाले जलसंकट की गंभीरता को लेकर कोई कार्य योजना तैयार की गई है। वर्तमान में नगर में तीन-तीन दिन के अंतर से जल सप्लाई किया जा रहा है। आधे से ज्यादा शहर में कड़कड़ाती ठंड में देर रात में जल सप्लाई हो रहा है। जल उपभोक्ताओं को मजबूरी में ठंड में पानी भरना पड़ रहा है। गांधी वार्ड, शास्त्री वार्ड में तो आज भी पानी के लिए एक किमी दूर का सफर तय करना पड़ता है। नवोदय वार्ड में कुछेक घरों को छोड़ दे तो 75 प्रतिशत वार्ड में आज भी जल संकट बना हुआ हैं।

जहां आधा से ज्यादा शहर पानी के परेशान है। वहीं नगर में कई स्थानों पर जल सप्लाई लाइन एवं निजी कनेक्शन वाली पाइप लाइन लीकेज होने के कारण आगे पानी नहीं पहंुच पा रहा है। बस स्टैंड पर कुछेक होटल में मुख्य लाइन से कनेक्शन दिए गए हैं। जो 24 घंटे अनवरत चलते रहते हैं। इन नलों से अतिरिक्त पानी नालियों में बहाया जा रहा है। पुरानी गल्ला मंडी, रेस्ट हाऊस के पास, किला के पास में भी पानी लीकेज बना रहता है।एसडीएम कार्यालय तिराहा पर किराना दुकान के पास पाइप लीकेज से करीब दो इंच पानी लगातार बह रहा है। सारे प्रशासनिक अधिकारी, नगर पालिका कर्मचारी अधिकारी इस लीकेज को देखते हुए निकल जाते हैं लेकिन किसी ने इस पानी की बर्वादी को रोकने का प्रयास नहीं किया। बजरिया में सराफा बाजार के रास्ते पर, गौरीशंकर मंदिर मार्ग पर बडकुल जैन मंदिर के पास, गौरीशंकर मंदिर मार्ग पर भी अनवरत पानी बहता है। जिसे भी सुधारने की कोई पहल अभी तक नहीं की गई।

^पीएचई एसडीओ एचएल अहिरवार ने बताया कि नई जल आवर्धन योजना से पूरे शहर को पानी सप्लाई हो रहा है। गांधी वार्ड, शास्त्री वार्ड को योजना में सम्मलित ही नहीं किया गया था। गिरते जलस्तर को लेकर अभी किसी प्रकार की योजना तैयार नहीं की गई है। नई जल आवर्धन योजना नगर पालिका के द्वारा संचालित की जा रही है।

इससंबंध में नगर पालिका सीएमओ प्रियंका झारिया से कई बार मोबाइल पर संपर्क करने का प्रयास किया लेकिन उन्होंने फोन रिसीव नहीं किया।

हटा। नगर की जीवनदायिनी कही जाने वाली सुनार नदी का जलस्तर लगातार कम हो रहा है। इनसेट में : नगर में जगह-जगह पाइप लाइन से पानी लीकेज होकर बहता रहता है।

जलसंकट| तेजी से घट रहा नदी का जलस्तर, प्रशासन के पास कोई कार्ययोजना नहीं

कहीं पानी की त्राहि-त्राहि है तो कहीं सड़कों पर बह रहा सैकड़ों गैलन पानी

X
Click to listen..