Hindi News »Madhya Pradesh »Hata» 30 साल पहले मानसरोवर तालाब की सुंदरता दूर-दूर फैली थी अब जल भराव आधा कम

30 साल पहले मानसरोवर तालाब की सुंदरता दूर-दूर फैली थी अब जल भराव आधा कम

ये हैं टीकमगढ़ जिले के मोहनगढ़ का मानसरोवर तालाब। इसमें तालाब की जमीन न केवल अतिक्रमण हैं,बल्कि यहां अवैध तरीके से...

Bhaskar News Network | Last Modified - Mar 30, 2018, 04:20 AM IST

ये हैं टीकमगढ़ जिले के मोहनगढ़ का मानसरोवर तालाब। इसमें तालाब की जमीन न केवल अतिक्रमण हैं,बल्कि यहां अवैध तरीके से खेती भी हो रही है। 80 वर्षीय बुजुर्ग लसगारी नापित एवं 77 वर्षीय गफूर खां ने बताया कि 30 साल पहले मानसरोवर तालाब की सुंदरता दूर-दूर फैली थी। अतिक्रमण की चपेट में आने से इस तालाब की सुंदरता खत्म हो गई है। वहीं तालाब का भराव क्षेत्र भी आधा रह गया है। पूर्व जिला पंचायत सदस्य राजेन्द्र मोदी के अनुसार शासन से कई बार मांग की थी कि मानसरोवर तालाब का गहरीकरण एवं सौदर्यकरण किया जाए, लेकिन शासन के द्वारा इस मांग पर आज तक कोई विचार नहीं किया गया। मोहनगढ़ के संतोष नपित, मल्लू जैन, राकेश नापित गांव के लोगों ने बताया कि प्रशासन से कई बार लिखित में शिकायत की गई है कि चंदेल कॉलीन तालाब से अतिक्रमण हटाया जाए। जिससे इसका अस्तित्व बना रहे।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Hata

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×