--Advertisement--

कुंडम की जपं अध्यक्ष महोबिया को हाईकोर्ट से मिली राहत

पद से हटाई गईं कुण्डम जनपद पंचायत अध्यक्ष अाराधना महोबिया को हाईकोर्ट से राहत मिली है। जस्टिस विजय कुमार शुक्ला...

Dainik Bhaskar

Mar 30, 2018, 04:20 AM IST
पद से हटाई गईं कुण्डम जनपद पंचायत अध्यक्ष अाराधना महोबिया को हाईकोर्ट से राहत मिली है। जस्टिस विजय कुमार शुक्ला की एकलपीठ ने जबलपुर कलेक्टर के उस आदेश पर रोक लगा दी, जिसके तहत अाराधना को पद से हटाकर 6 साल तक चुनाव लड़ने के लिए अयोग्य ठहराया गया था। अपने फैसले में अदालत ने माना है कि मप्र पंचायत राज एवं ग्राम स्वराज अधिनियम की धारा 40 के तहत किसी भी निर्वाचित पदाधिकारी को हटाने की कार्रवाई नोटिस जारी होने के 90 दिनों के भीतर पूरी होना चाहिए। चूंकि इस मामले में ऐसा नहीं हुआ, इसलिए कलेक्टर का आदेश खारिज किया जाता है।

अाराधना महोबिया की ओर से दायर इस याचिका में कहा गया था कि तत्कालीन सीईओ बासंती दुबे और उनके बीच हुए विवाद के बाद दोनों पक्षों ने अपनी शिकायतें वरिष्ठ अधिकारियों को दी थीं।

इसके बाद याचिकाकर्ता को पद से हटाने का शोकॉज नोटिस 10 मार्च 2017 को जारी किया गया। फिर एक और शिकायत मिलने पर एसडीओ से जांच कराई गई और फिर 10 अगस्त 2017 को रिपोर्ट आने के बाद याचिकाकर्ता को दूसरा नोटिस 9 अक्टूबर 2017 को जारी किया गया। एसडीओ द्वारा 10 अगस्त को दी गई रिपोर्ट के आधार पर कलेक्टर ने याचिकाकर्ता को अध्यक्ष पद से हटाने के आदेश दिसंबर 2017 में जारी किया गया, जिसको चुनौती देकर दायर अपील के खारिज होने पर यह याचिका हाईकोर्ट में दायर की गई थी। मामले पर हुई सुनवाई के दौरान याचिकाकर्ता की ओर से अधिवक्ता डीके शर्मा की दलील थी कि पंचायत राज अधिनियम की धारा 40 में स्पष्ट प्रावधान है कि पहला नोटिस जारी होने के बाद 90 दिनों के भीतर प्रक्रिया पूरी करके किसी भी निर्वाचित जनप्रतिनिधि को हटाया जा सकता है।

पद से हटाने का जबलपुर कलेक्टर का आदेश खारिज

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..