• Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Hata News
  • किशोरी से छेड़छाड़ के आरोपियों का सरकारी जमीन से कब्जा हटाया गया
--Advertisement--

किशोरी से छेड़छाड़ के आरोपियों का सरकारी जमीन से कब्जा हटाया गया

बरोदिया नौनागर गांव में राजस्व विभाग एवं पुलिस ने कार्रवाई करते हुए किशोरी से छेड़छाड़ एवं आॅमर्स एक्ट के आरोपी...

Dainik Bhaskar

Apr 02, 2018, 05:15 AM IST
किशोरी से छेड़छाड़ के आरोपियों का सरकारी जमीन से कब्जा हटाया गया
बरोदिया नौनागर गांव में राजस्व विभाग एवं पुलिस ने कार्रवाई करते हुए किशोरी से छेड़छाड़ एवं आॅमर्स एक्ट के आरोपी शब्बीर हसन पिता शकूर हसन उसके बेटे का शासकीय जमीन से कब्जा जाकर हटा दिया है। शब्बीर हसन ने सरकारी जमीन पर कब्जा कर लिया था। जिसके विरूद्ध बेदखली आदेश तहसीलदार कोर्ट द्वारा दिया गया था ।

टीआई एसपी सिंह बघेल ने बताया कि शब्बीर हसन पर आॅर्मस एक्ट उसके पुत्र आमिर सोहिल, अरमान एवं रिजवान के खिलाफ छेड़छाड़ एवं पास्को एक्ट के तहत केस दर्ज है । वर्तमान में मप्र शासन के आदेशानुसार पुलिस द्वारा अपराधियों के विरूद्ध सख्त कार्रवाई करने के पुलिस को निर्देश दिए गए हंै।

जानकारी के अनुसार उक्त प्लाटों की कीमत लगभग 25 लाख रूपए आंकी गई है। गौरतलब है कि सभी आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया। वहीं आग से जली 14 वर्षीय किशोरी का इलाज जारी है। किशोरी ने आरोपियों की छेड़छाड़ से परेशान होकर स्वयं को आग लगा ली थी। बदनामी के डर से किसी को बताया नहीं था और अकेले मंें खुद को आग लगा ली थी।

वन विभाग ने तीन क्विंटल अवैध सागौन जब्त की : आरोपियों के घर से वन विभाग एवं पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए अवैध सागौन की लकड़ी जब्त कर फर्नीचर बनता पाकर इनके खिलाफ वन अधिनियम के तहत केस दर्ज किया गया है। रेंजर ओपी बवेले ने बताया कि आरोपियों द्वारा अवैध रूप से सागौन रखने की सूचना मिली। गौरतलब है यह मामला सुर्खियों में है।

बरौदिया नौनागिर में आरोपियों द्वारा किए गए कब्जे को जेसीबी से हटाती पुलिस।

8 भाई हैं जिनका गांव

में आतंक था

गांव वालों ने बताया कि शब्बीर हसन की दो प|ियों से 13 संताने हैं। जिसमें 8 लड़के और 5 लड़कियां हैं। आठ लड़कों का गांव में आतंक था जिससे गांव के लोग परेशान थे। जिस मोहल्ले में यह रहते थे वहां तो कोई इनके खिलाफ बोल भी नहीं पाता था। थाने जाने के लिए जब कोई निकलता तो यह लड़के उसे पुलिया पर ही रोक लेते और मारपीट कर देते थे। दबंता से काम करते हुए मेन रोड पर यात्री प्रतीक्षालय के बाजू में भूमि पर कब्जा कर मकान बना रहे थे। प्रशासन के रोक लगाने के बाद भी यह नहीं माने और नींव भरी।

X
किशोरी से छेड़छाड़ के आरोपियों का सरकारी जमीन से कब्जा हटाया गया
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..