--Advertisement--

सरपंच के नए चुनाव कराने पर लगी रोक

उमरिया जिले की चंदिया तहसील की ग्राम पंचायत मझौली खुर्द के सरपंच को हटाने के बाद वहां पर नए सरपंच के लिए कराए जा रहे...

Danik Bhaskar | Jan 14, 2018, 05:55 AM IST
उमरिया जिले की चंदिया तहसील की ग्राम पंचायत मझौली खुर्द के सरपंच को हटाने के बाद वहां पर नए सरपंच के लिए कराए जा रहे चुनाव पर हाईकोर्ट ने रोक लगा दी है। जस्टिस जितेन्द्र कुमार माहेश्वरी की एकलपीठ ने इस अंतरिम आदेश के साथ मामले की अगली सुनवाई फरवरी माह के दूसरे सप्ताह में निर्धारित की है।

सरपंच मुन्ना सिंह की ओर से दायर इस याचिका में कहा गया है कि ग्राम पंचायत मझौली खुर्द के सरपंच पद से उन्हें हटाकर राज्य सरकार ने नए चुनाव कराने की अधिसूचना जारी कर दी। आवेदक का कहना है कि पद से हटाए जाने संबंधी कलेक्टर के आदेश के खिलाफ उसने एडीशनल कमिश्नर शहडोल के समक्ष अपील दायर की थी, जिस पर 27 जुलाई 2017 को कलेक्टर के आदेश पर रोक लगा दी गई थी। इसके बाद भी नए चुनाव कराए जाना अवैधानिक है।

याचिका पर हुई प्रारंभिक सुनवाई के दौरान याचिकाकर्ता की ओर से अधिवक्ता कुलदीप सिंह ने पक्ष रखा। सुनवाई के बाद अदालत ने अपने अंतरिम आदेश में कहा- ‘सरपंच पद से हटाए जाने के फैसले के खिलाफ याचिकाकर्ता ने अपील दायर की, जिस पर स्टे जारी हुआ था। ऐसे में सरपंच के पद को खाली नहीं माना जा सकता। किसी भी मामले में चुनाव की अधिसूचना तभी जारी हो सकती है, जब पद खाली हो।’ इस मत के साथ अदालत ने ग्राम पंचायत मझौली खुर्द के सरपंच पद के चुनाव पर रोक लगा दी।