हटा

--Advertisement--

महिलाएं और बच्चियां सजग रहकर अपराध कम कर सकती हैं: अंजना

बुधवार को पुलिस थाना हटा में राष्ट्रीय बालिका दिवस पर महिला बाल विकास विभाग एवं पुलिस विभाग के संयुक्त तत्वाधान...

Dainik Bhaskar

Jan 25, 2018, 06:40 AM IST
बुधवार को पुलिस थाना हटा में राष्ट्रीय बालिका दिवस पर महिला बाल विकास विभाग एवं पुलिस विभाग के संयुक्त तत्वाधान में महिला सम्मान सुरक्षा स्वरक्षा संवाद कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के प्रारंभ मे परियोजना अधिकारी शिव राय एवं टीआई प्रदीप सोनी द्वारा मां सरस्वती का पूजन किया गया। स्वागत के बाद मजिस्ट्रेट संजय वर्मा ने महिलाओं के अधिकारों तथा विधिक साक्षरता और उनके हक के बारे में जानकारी दी।

महिला मोर्चा अध्यक्ष अंजना चौबे ने महिला उत्पीड़न तथा उनसे बचाव पर जोर देते हुए महिला सम्मान सुरक्षा स्वरक्षा संवाद पर जानकारी दी। इसके बाद महिला बाल विकास विभाग के द्वारा एक टेली फिल्म दिखाई गई। जिसमें महिलाओं और बच्चियों को सुरक्षित रहने के लिए जानकारी दी। उन्होंने कहा कि महिलाएं सजग रहकर अपराध कम कर सकती हैं। इसलिए हमेशा सजग रहें। किसी भी परिस्थिति का सामना करने के लिए सदैव तैयार रहें। जरूरत पड़ने पर तत्काल पुलिस को सूचित करें। इसके बाद एडीपीओ जागृति अहिरवार ने विधिक सहायता के बारे में जानकारी दी। टीआई ने भी महिला अपराधों से सुरक्षा के बारे में बताया और सभी से जागरूक रहने की अपील की। कार्यक्रम में नगर मंडल अध्यक्ष दीपक जैन, विजय सिंह राजपूत, लालचंद खटीक, महिला मोर्चा अध्यक्ष अंजना चौबे, सुधा सेन, ब्रजेश दुबे, राजुला एलबर्ट, एसडीओपी कमल जैन, जेलर फहीम खान, एसआई आरए पांडे, पीएन खेमरिया सतेंद्र राजपूत सत्यम सडैया के अलावा आंगनबाड़ी कार्यकर्ता मौजूद रहीं।

तेंदूखेड़ा/तेजगढ़: राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर थाना परिसर तेजगढ़ में महिला सशक्तिकरण पर जनसंवाद और जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसमें आशीष जैन ने कहा कि आज के दौर में महिलाओं और बालिकाओं को सुरक्षा और स्वरक्षा के लिए जागरूक रहना अति आवश्यक है। हमें जब भी अपने साथ या अपनी जानकारी में कोई अपराध की जानकारी लगती है तो तत्काल ही अपनी मदद की प्रशासनिक सुविधा का उपयोग करना चाहिए ताकि हमारी समस्या का त्वरित हल हो सके।

थाना प्रभारी भल्ला दुबे ने बालिकाओं और महिलाओं की सुरक्षा एवं अधिकारों से सबंधित कानून को विस्तार से समझाकर कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में अधिकांश महिलाओं और पुरूषों में यह भ्रांति होती है कि रिपोर्ट होने पर हमारे साथ घटित घटना का सभी को पता चल जाएगा लेकिन ऐसा नहीं है, आपकी सभी जानकारी गुप्त रखी जाएगी। कार्यक्रम में महिला बाल विकास की योजनाओं और देश की बेटियों के गौरव का बखान किया गया। इस अवसर पर महेंद्र दीक्षित, पहाड़ी सिंह, लखन यादव, मनोहर सिंह, वीरू असाटी, भोजराज कोष्टी, फरमान खान, अनूपसिंह, जीएस राजपूत सहित स्वास्थ्य विभाग एवं महिलाएं मौजूद रहीं।

हटा। पुलिस थाना परिसर में महिलाओं को संबोधित करतीं अधिकारी।

जरूरत पड़ने पर तत्काल पुलिस को सूचना दें: चौहान

पथरिया|राष्ट्रीय महिला दिवस के मौके पर पुलिस थाना पथरिया में महिला सशक्तिकरण अधिकारी स्वाति जैन के निर्देशन में जनसंवाद कार्यक्रम आयोजित हुआ। जिसमें उपनिरीक्षक अरविंद चौहान ने कहा कि शासन द्वारा लगातार महिला सशक्तिकरण को लेकर योजनाएं एवं कानून बनाए जा रहे हैं।

महिलाओं को डरने की कोई आवश्यकता नहीं है। हमेशा पुलिस आप लोगों के साथ है। आज समाज में अपराध होते हैं और अपराध भी हम सबके बीच में ही होते हैं। हमें अपराधों पर ध्यान देने की आवश्यकता है। आप लोग ही अपराधों को कम कर सकते हैं, इसके लिए आपको पुलिस को सूचना देना होगी। आप सभी का नाम भी गोपनीय रखा जाएगा, क्योंकि हर जगह पर पुलिस उपलब्ध नहीं होती है। उन्होंने कहा कि समाज को एक नई दिशा की ओर आप लोगों को ही ले जाना है। पुलिस हरसंभव आप लोगों के साथ रहेगी। महिला सशक्तिकरण अधिकारी स्वाति जैन स्वाति जैन ने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा महिला वर्ग को लेकर नए कानून सहित नई-नई योजनाएं क्रियान्वित कर रही हैं।

हर एक क्षेत्र में महिलाओं की सहभागिता होती है। हमें अपने अधिकारों को जानने की आवश्यकता है। सरकार द्वारा निशुल्क कोचिंग भी कराई जाती है इसके लिए आप लोगों के लिए महिला बाल विकास में आवेदन देने की आवश्यकता है।

X
Click to listen..