• Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Hata News
  • लगातार कम हो रहा है सुनार का जलस्तर, कई वार्डों में अभी से गहराने लगा जलसंकट
--Advertisement--

लगातार कम हो रहा है सुनार का जलस्तर, कई वार्डों में अभी से गहराने लगा जलसंकट

नगर की जीवनदायिनी कही जाने वाली सुनार नदी का जलस्तर लगातार तेजी से कम हो रहा है। फरवरी के महीने में ही नदी के जलस्तर...

Dainik Bhaskar

Feb 07, 2018, 06:55 AM IST
लगातार कम हो रहा है सुनार का जलस्तर, कई वार्डों में अभी से गहराने लगा जलसंकट
नगर की जीवनदायिनी कही जाने वाली सुनार नदी का जलस्तर लगातार तेजी से कम हो रहा है। फरवरी के महीने में ही नदी के जलस्तर में भारी गिरावट हुई है। इस वर्ष कम बारिश होने के बाद नदी के ज्यादातर हिस्सों का पानी सूख गया है। नगर में गर्मी ने ठीक से दस्तक भी नहीं दी है और कई वार्डों में जल संकट अभी से गहराने लगा है। जिसको लेकर लोगों की चिंता और भी बढ़ने लगी है। लोगों का कहना है कि यदि समय रहते ग्राउंड वाटर को बढ़ाने के लिए प्रयास किए जाते और नदी से सिल्ट हटाने और रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम पर कार्य योजना बनाकर काम किया जाता तो शायद नगर को पानी की समस्या से मुक्ति दिलाई जा सकती थी।

कुछ माह पहले नगर की बिहारीजी सरकार सेवा समिति के सदस्यों ने नदी की सफाई का अभियान कई हफ्तों तक चलाया था, लेकिन शासन प्रशासन की ओर से कोई मदद न मिलने की वजह से यह सफाई अभियान उनको मजबूरन बीच में ही बंद करना पड़ा। निस्वार्थ भाव से सुनार नदी की सफाई में जुटे नगर के युवा और बच्चे सुबह से ही नदी की सफाई में जुट जाते थे और उन्होंने प्रशासन से मशीनों के सहयोग की मांग भी की थी लेकिन शासन प्रशासन द्वारा कोई मदद नहीं की गई। यही कारण है कि आज सुनार नदी ही यह हालत हो गई है।

बुजुर्ग शंभुदयाल पटेल, विक्रम सिंह, सुरेश पटेल का कहना है कि यदि समय रहते प्रशासन ने नदी में जमा गंदगी तथा पत्थरों को बाहर निकाल दिया होता तो नदी की गहराई बढ़ जाती। जिससे ज नदी का जलस्तर कम नहीं होता और लोगों को पानी की परेशानी भी न होती। वर्तमान में नदी के कई हिस्सों का पानी हरा हो गया है। जिससे वहां पानी भी दूषित हो गया है। नदी के अंदर बड़े बड़े पत्थर पड़े होने से गहराई भी कम हो गई है। जब अभी फरवरी के माह में ही नदी का यह हाल हैं तो आगे की स्थिति और भयावह होने वाली है। दूसरी ओर नगर के गांधी वार्ड ,शास्त्री वार्ड, नवोदय वार्ड, उपनगर ककराई पानी को लेकर लोग यहां-वहां भटक रहे हैं। यदि जल्द ही प्रशासन ने इस जल संकट के उपाय नहीं ढूंढे तो जल संकट की समस्या विकराल रूप धारण कर लेगी।

किए जाएंगे प्रयास


हटा। सुनार नदी में जलस्तर कम हो गया है। अब केवल गड्‌ढों में दूषित पानी भरा हुआ है।

X
लगातार कम हो रहा है सुनार का जलस्तर, कई वार्डों में अभी से गहराने लगा जलसंकट
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..