• Hindi News
  • Madhya Pradesh News
  • Hata News
  • भीषण गर्मी में बिजली की आंख मिचाैली 24 में से मात्र 8 घंटे ही हो रही आपूर्ति
--Advertisement--

भीषण गर्मी में बिजली की आंख मिचाैली 24 में से मात्र 8 घंटे ही हो रही आपूर्ति

शिकायत करने पर अधिकारी नहीं उठाते लोगों के फोन भास्कर संवाददाता| बनवार नोहटा विद्युत वितरण कंपनी के ग्रामीण...

Dainik Bhaskar

May 08, 2018, 03:10 AM IST
शिकायत करने पर अधिकारी नहीं उठाते लोगों के फोन

भास्कर संवाददाता| बनवार

नोहटा विद्युत वितरण कंपनी के ग्रामीण अंचलों में इन दिनों अघोषित बिजली कटौती से लोग बेहाल हैं। 42 डिग्री के आसपास पारा होने के बावजूद भी विभाग द्वारा बार-बार कटौती की जा रही है, जिससे जहां लोगों के कूलर, पंखे जल रहे हैं तो वहीं दूसरी ओर बार-बार कटौती होने से लोग गर्मी में पसीना बहाने विवश हैं।

सुबह हो या शाम दिन हो या रात बिजलीं कटौती का आलम एक सा बना हुआ है। लोगों को पूरी दोपहर बिना बिजली को काटना पड़ रही है तो वहीं दूसरी ओर रात में भी बिजली चली जाती है, जिससे लोग चेन की नींद भी नहीं सो पा रहे हैं। स्थिति यह है कि 24 घंटे में मात्र 8 घंटे ही बिजली मिल रही है। हैरानी की बात तो यह है कि लाइनमेन भी लापरवाही बरत रहे हैं। जो कभी भी मुख्यालय पर नहीं रहते और निजी लाइनमेन रखकर बिजली की व्यवस्था संभाल रहे हैं। बताया गया है कि एक लाइनमेन से 45 से 50 हजार रूपए तनख्वाह मिलती है, जो मात्र तीन से चार हजार रूपए में एक लड़का लगा लेते हैं और स्वयं ही अपने घर पर आराम करते हैं। जब कभी कोई फाल्ट आ जाता है तो बिना प्रशिक्षित लड़कों को भेज देते हैं, जिससे उनकी जान को खतरा बना रहता है। दूसरी ओर लगातार कटौती के बावजूद भी लोगों को मनमाना बिल थमाया जा रहा है। ग्रामीण राजकुमार पटेल, ओमकार दुबे, रूपविशाल पटेल, हेमराज ठाकुर, किरण पटेल ने बताया कि इस समय घरेलू विजलीं के अलावा कृषि कार्य में बिजलीं की खपत नहीं हो रही है इसके बावजूद घरेलू उपभोक्ताओं को 24 घंटे में मुश्किल से 8 घंटे भी बिजलीं नहीं मिल रही है। इस संबंध में डीई केएस शिववंशी का कहना है कि मैं अभी नोहटा विद्युत केंद्र के अधिकारियों से पूछता हूं कि इतनी कटौती क्यों की जा रही है। साथ ही लाइनमेन को मुख्यालय पर रहने के निर्देश दिए जाएंगे।

X
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..