--Advertisement--

कंपनी ने नहीं बनाई नालियां, घरों में फिर भरेगा बारिश का पानी

नगर के गांधी वार्ड के निवासियों को इस साल भी बारिश में परेशानियों से जूझना पड़ेगा। प्रशासन द्वारा बारिश के पानी की...

Dainik Bhaskar

Apr 27, 2018, 04:05 AM IST
कंपनी ने नहीं बनाई नालियां, घरों में फिर भरेगा बारिश का पानी
नगर के गांधी वार्ड के निवासियों को इस साल भी बारिश में परेशानियों से जूझना पड़ेगा। प्रशासन द्वारा बारिश के पानी की निकासी के लिए इस बार भी सड़क किनारे नाला नहीं बनाया गया है। जबकि बीते साल लोगों के घरों से 10 फीट तक पानी भर गया था। जिससे लोगों को पूरी बारिश परेशानी झेलना पड़ी थी।

गांधी वार्ड से दरगुवां मार्ग के निर्माण के दौरान सड़क की ऊंचाई घरों से काफी ऊंची हो गई है। कंपनी द्वारा सड़क तो बनाई गई, लेकिन नालियां नहीं बनाई और काम अधूरा छोड़कर चली गई। जिसका खामियाजा नागरिकों को भुगतना पड़ रहा है।

हैरानी की बात तो यह है कि नाले के निर्माण के लिए स्थानीय लोगों द्वारा कई बार प्रशासन को आवेदन भी दिए जा चुके हैं, फिर भी स्थिति जस की तस बनी हुई है। गौरतलब है कि पूर्व में भी सड़क निर्माण के दौरान काफी लापरवाही बरती गई थी, जिसके कारण सड़क निर्माण का काम तीन साल तक बंद रहा। बाद में दूसरी एजेंसी द्वारा निर्माण कार्य कराया गया, उसके द्वारा भी नियमों की अनदेखी की गई। यही कारण है कि लोगों द्वारा दो बार सड़क पर उतरकर विरोध प्रदर्शन किया था और प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की थी। इस दौरान सड़क पर पत्थर रखकर जाम भी लगाया गया था। तब अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर कहा था जेसीबी से नाली खुदवाकर पानी की निकासी की थी साथ ही नाली का निर्माण कराए जाने की बात कही थी, अब तक सड़क खुदी पड़ी है।

आश्वासन के बाद भी नहीं बना नाला

हटा। गांधी वार्ड स्थित मुख्य सड़क किनारे नालियां नहीं बनाई गई हैं।

भास्कर संवाददाता | हटा

नगर के गांधी वार्ड के निवासियों को इस साल भी बारिश में परेशानियों से जूझना पड़ेगा। प्रशासन द्वारा बारिश के पानी की निकासी के लिए इस बार भी सड़क किनारे नाला नहीं बनाया गया है। जबकि बीते साल लोगों के घरों से 10 फीट तक पानी भर गया था। जिससे लोगों को पूरी बारिश परेशानी झेलना पड़ी थी।

गांधी वार्ड से दरगुवां मार्ग के निर्माण के दौरान सड़क की ऊंचाई घरों से काफी ऊंची हो गई है। कंपनी द्वारा सड़क तो बनाई गई, लेकिन नालियां नहीं बनाई और काम अधूरा छोड़कर चली गई। जिसका खामियाजा नागरिकों को भुगतना पड़ रहा है।

हैरानी की बात तो यह है कि नाले के निर्माण के लिए स्थानीय लोगों द्वारा कई बार प्रशासन को आवेदन भी दिए जा चुके हैं, फिर भी स्थिति जस की तस बनी हुई है। गौरतलब है कि पूर्व में भी सड़क निर्माण के दौरान काफी लापरवाही बरती गई थी, जिसके कारण सड़क निर्माण का काम तीन साल तक बंद रहा। बाद में दूसरी एजेंसी द्वारा निर्माण कार्य कराया गया, उसके द्वारा भी नियमों की अनदेखी की गई। यही कारण है कि लोगों द्वारा दो बार सड़क पर उतरकर विरोध प्रदर्शन किया था और प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी की थी। इस दौरान सड़क पर पत्थर रखकर जाम भी लगाया गया था। तब अधिकारियों ने मौके पर पहुंचकर कहा था जेसीबी से नाली खुदवाकर पानी की निकासी की थी साथ ही नाली का निर्माण कराए जाने की बात कही थी, अब तक सड़क खुदी पड़ी है।

बीते साल घरों में तीन से चार फीट पानी भर गया था

हटा। गांधी वार्ड में बीते साल इस तरह मकानों में भर गया था पानी। (फाइल)

Ãमैं उस समय यहां पदस्थ नहीं था। पता करता हूं कि नालियां क्यों नहीं बनी। पानी निकासी के प्रबंध किए जाएंगे। - नारायण सिंह, एसडीएम

लोगों ने कहा फिर होगा चकाजाम

स्थानीय निवासी रूपलाल, बृजेंद्र, रूकमनबाई, शीलाबाई ने बताया कि बारिश को दो माह ही शेष हैं, लेकिन अब तक प्रशासन द्वारा सड़क किनारे नाला बनाने का काम शुरू नहीं किया गया है। बीते साल हम लोगों को पूरी बारिश भर परेशानी भोगनी पड़ी थी, क्योंकि मकानों में दस-दस फीट पानी भरने से पूरा गृहस्थी का सामान खराब हो गया था। यदि अब भी प्रशासन नहीं चेता तो लोगों द्वारा चकाजाम किया जाएगा।

X
कंपनी ने नहीं बनाई नालियां, घरों में फिर भरेगा बारिश का पानी
Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..