Hindi News »Madhya Pradesh »Hoshangabad» आज से टोल टैक्स महंगा, मकान बनाने के लिए ऑनलाइन अनुमति

आज से टोल टैक्स महंगा, मकान बनाने के लिए ऑनलाइन अनुमति

भास्कर संवाददाता | होशंगाबाद एक अप्रैल से सरकारी स्तर पर होने वाले 4 बदलाव आपको प्रभावित करेंगे। इनके कारण कुछ...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 01, 2018, 05:15 AM IST

आज से टोल टैक्स महंगा, मकान बनाने के लिए ऑनलाइन अनुमति
भास्कर संवाददाता | होशंगाबाद

एक अप्रैल से सरकारी स्तर पर होने वाले 4 बदलाव आपको प्रभावित करेंगे। इनके कारण कुछ सुविधा होगी तो कुछ जगह असुविधा का सामना करना पड़ेगा। मप्र रोड विकास निगम ने टोल टैक्स की दरों में बदलाव किया है। इससे होशंगाबाद-छिंदवाड़ा हाईवे पर सफर महंगा होगा। वहीं नपा ई-नगरपालिका के चलते अब शहर में भवन निर्माण की अनुमति के लिए ऑनलाइन आवेदन लेगी। ऑफलाइन आवेदन स्वीकार नहीं किए जाएंगे। आरटीओ ने रविवार से ही सभी बसों में जीपीएस सिस्टम और कैमरे अनिवार्य कर दिए हैं। सीएमओ अमरसत्य गुप्ता ने बताया नपा में मकान की अनुमति लिए अब ऑनलाइन आवेदन करना होगा। नई व्यवस्था 1 अप्रैल से लागू होगी। इससे लोगो को नपा के चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे।

आज से इन 4 बदलावों के साथ बिताना होगा जीवन

एमपीआरडीसी ने टोल टैक्स में 5 से 7 प्रतिशत तक बढ़ोत्तरी की है। होशंगाबाद-पिपरिया और पिपरिया-पचमढ़ी मार्ग के रेट बदल दिए हैं। हालांकि सड़कें पूरी तरह अपडेट नहीं है। जिले में मप्र सड़क विकास निगम के दो टोल टैक्स हैं। चेतक इंटरप्राइजेस के आरके मेहरा ने बताया नई दरें तय हो गई हैं। दो टोलों पर अलग-अलग रेट बढ़े हैं।

बसों, टैक्सी में सीसीटीवी, जीपीएस जरूरी

आज से सभी बसों, टैक्सी सीसीटीवी और जीपीएस लगेंगे। मनोज तेहनगुरिया ने बताया 1 अप्रैल से बिना सीसीटीवी और जीपीएस वाली बसों को फिटनेस प्रमाण पत्र नहीं दिया जाएगा। बसें सड़कों पर बिना फिटनेस के नहीं चल सकेंगी।

होशंगाबाद से पिपरिया

वाहन पहले अब

कार 50 53

बसें 248 266

कमर्शियल 119 128

ट्रक 298 319

मल्टी वीकल 596 638

पिपरिया से पचमढ़ी

वाहन पहले अब

कार 38 40

बसें 91 97

कमर्शियल 189 202

ट्रक 226 242

मल्टी वीकल 453 484

आॅनलाइन करना होगा आवेदन

रविवार से ई-नगरपालिका के तहत एबीपीएएस (ऑटोमेटेड बिल्डिंग प्लान एप्रूवल) लागू हो जाएगा। अब भवन निर्माण अनुमति ऑनलाइन ही स्वीकार होगी। नपा ऑफलाइन अनुमति नहीं दे पाएगी। लोगों को बड़ी राहत मिलेगी। अभी अनुमति के लिए चक्कर लगाने पड़ते हैं। भ्रष्टाचार की भी शिकायतें आती हैं। ऑनलाइन आवेदन करने पर नपा रजिस्टर्ड आर्किटेक्ट को नंबर अलॉट करेगी। आईडी बिल्डिंग इंस्पेक्टर के पास पहुंचेगी। मुआयना कर तीन दिन में आवेदन निरस्त या स्वीकार करेगा। स्वीकार करने पर दस्तावेज सीएमओ को जाएंगे।

खाता और आधार में एक ही पता

बैंक खाता और आधार में लिखे पते का एक समान होना अब जरूरी होगा। लीड बैंक मैनेजर आरके त्रिपाठी ने बताया खाता नंबर और आधार का पता एक जैसा होना चाहिए।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Hoshangabad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×