Hindi News »Madhya Pradesh »Hoshangabad» इंदिरा चौक के नाले पर बनी दुकानें, रसूलिया, मीनाक्षी चौक, आईटीआई में कब्जा

इंदिरा चौक के नाले पर बनी दुकानें, रसूलिया, मीनाक्षी चौक, आईटीआई में कब्जा

भास्कर संवाददाता | होशंगाबाद इंदिरा चौक स्थित शहर के सबसे बड़े नाले पर पक्की दुकानें बनी हैं। इंदिरा चौक से...

Bhaskar News Network | Last Modified - Apr 02, 2018, 05:15 AM IST

इंदिरा चौक के नाले पर बनी दुकानें, रसूलिया, मीनाक्षी चौक, आईटीआई में कब्जा
भास्कर संवाददाता | होशंगाबाद

इंदिरा चौक स्थित शहर के सबसे बड़े नाले पर पक्की दुकानें बनी हैं। इंदिरा चौक से हलवाई चौक तक नाले की सफाई करने में नपा कर्मियों का पसीना छूट रहा है। शहर के कई नालों पर अतिक्रमण है। इस कारण बारिश के पानी की निकासी नहीं होती और पानी कॉलाेनियों में घुसता है। नाले किस तरह लोगों के लिए समस्या बने हैं भास्कर ने इसकी पड़ताल की।

सफाई में आती है परेशानी

नाले पर अतिक्रमण के कारण सफाई में परेशानी होती है। सड़क व नालों पर अतिक्रमण के कारण बारिश में सड़कों का पानी काॅलोनियों में भरता है।

इंदिरा चौक

रसूलिया

रसूलिया में नेशनल हाईवे के किनारे बने नाले को मिट्टी डालकर भर दिया गया है। लोगों ने नाले के ऊपर दुकानें बना ली है। बारिश में पानी निकासी की दिक्कत से लोग परेशान हैं।

अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई का असर नहीं

नालों पर, नेशनल हाईवे, रिहायशी काॅलोनियों, नगर की प्रमुख सड़कों, चौक चौराहों पर अतिक्रमण हो रहा है। नगर प्रशासन की अतिक्रमण हटाने की मुहिम का असर नहीं होता। अतिक्रमणकारी दोबारा कब्जा जमा लेते हैं। कई स्थानों पर अतिक्रमणकारियों को राजनैतिक संरक्षण होने के कारण नपा को भारी मशक्कत करनी पड़ती है।

सर्किट हाउस से निकलता है इंदिरा चौक का बड़ा नाला

नगर का मुख्य नाला सर्किट हाउस से होकर निकलता है जो सेठ गुरु प्रसाद स्कूल से वार्ड 6, गांधी पार्क, इंदिरा चौक, मंसा बूट हाउस, बाबा वीडियो, हलवाई चौक से पान बाजार, सब्जी मंडी होते हुए बसंत टॉकीज पर बाहर निकलता है। इस नाले पर सब्जी मंडी और पान बाजार में भी दुकानें बनी हैं।

इन क्षेत्रों में तेजी से बढ़ रहा अतिक्रमण

आईटीआई रोड पर नए आरटीओ कार्यालय के सामने, सदर बाजार एमपीईबी कार्यालय के सामने, मीनाक्षी टॉकीज चौराहे पर काॅलेज रोड पर, हाउसिंग बोर्ड काॅलोनी के उत्कृष्ट मार्ग पर, रिहायशी काॅलोनी क्षेत्र में सबसे ज्यादा अतिक्रमण है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Hoshangabad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×