Hindi News »Madhya Pradesh »Hoshangabad» दाे बार निरीक्षण टलने के बाद अाज आएंगे जीएम, 13 दिन में रेलवे ने बढ़ाई 20 सुविधा

दाे बार निरीक्षण टलने के बाद अाज आएंगे जीएम, 13 दिन में रेलवे ने बढ़ाई 20 सुविधा

जीएम शुक्रवार सुबह 11.15 बजे इटारसी से निरीक्षण कर होशंगाबाद स्टेशन पहुंचेंगे। इससे पहले वे 19 जनवरी और 30 जनवरी को...

Bhaskar News Network | Last Modified - Feb 02, 2018, 05:50 AM IST

जीएम शुक्रवार सुबह 11.15 बजे इटारसी से निरीक्षण कर होशंगाबाद स्टेशन पहुंचेंगे। इससे पहले वे 19 जनवरी और 30 जनवरी को निरीक्षण करने वाले थे, लेकिन दौरा टल गया। रेलवे प्रबंधन को तैयारी के लिए 13 दिन और मिल गए। स्टेशन पर निरीक्षण की तैयारी के लिए काम एक महीने से चल रहा था लेकिन जीएम के कारण रेलवे ने कोई कमी नहीं छोड़ी।

एक महीने से चल रही तैयारी

शुक्रवार को सीसीएम ने किया औचक निरीक्षण

जीएम के दौरे से एक दिन पहले चीफ कमर्शियल मैनेजर (सीसीएम) एसके दास ने निरीक्षण किया। दास गुरुवार शाम 4 बजे कार से स्टेशन पहुंचे। उन्होंने स्टेशन परिसर की खाली जगह पर कमर्शियल जोन की संभावनाएं तलाशी। दास ने खाली जगह पर फूड प्लाजा और शॉप तैयार कर यात्रियों के लिए बाजार तैयार करने की बात कही। कैंटीन और स्टेशन क्षेत्र में अवैध वेंडरिंग की स्थिति जानी। दोनों प्लेटफाॅर्म पर टिकट विंडो का निरीक्षण किया। वाणिज्य विभाग कार्यालय में रिकाॅर्ड चैक किया।

वाईफाई सुविधा

यात्री प्रतीक्षालय

दिव्यांगों को पाथ वे

वॉटर बूथ

वॉल पेंटिंग

सुरक्षित पार्किंग

फव्वारा,

कॉलोनी में 10 भवन

पीडब्लूआई कार्यालय भवन

रेस्ट हाउस में सुधार

पार्क, बैडमिंटन कोर्ट

शौचालय का रेनोवेशन

सड़क निर्माण, ग्लोसाइन बोर्ड, ट्रैक पर पैकिंग कार्य

पटरी का सुधार

प्लेटफाॅर्म-1 पर आरक्षण विंडो

स्टील की रैलिंग

12 स्टेनलेस स्टील चेयर

ट्रेनों की पोजिशन के

लिए एलईडी स्क्रीन

सुबह 11.15 पर आएंगे जीएम पिल्लई

जीएम पवारखेड़ा में 10.30 से 11 बजे तक निरीक्षण करेंगे। सुबह 11.15 बजे होशंगाबाद स्टेशन पहुंचेंगे। 30 मिनट में जायजा लेंगे। इसके बाद नर्मदा ब्रिज, बुदनी, मिडघाट का निरीक्षण करेंगे।

स्टेशन पर यह सुविधाएं

धन्यवाद रेलवे....जीएम के आने से पहले जो हमें सुविधाएं दी

गलती सुधारी: पेंटिंग की रेलगाड़ी में गेट से हटाए यात्री

विकलांग हटाकर लिखा दिव्यांग

ए-ग्रेड स्टेशन पर यह कमियां, जिन्हें दूर करने की जरूरत

होशंगाबाद स्टेशन पर नर्मदा स्नान और पचमढ़ी के लिए वीआईपी गेस्ट आते हैं। स्टेशन पर उन्हें आरपीएफ थाने में इंतजार करना पड़ता है। स्टेशन पर वीआईपी वेटिंग रूम नहीं है।

स्टेशन पर टू व्हीलर वाहनों की पार्किंग है। फोर व्हीलर की पार्किंग नहीं है।

दोपहर 1 बजे के बाद स्टेशन से भोपाल जाने और इटारसी, जबलपुर हरदा रूट पर कोई ट्रेन नहीं है।

टीन शेड छोटा है। जबकि प्लेटफाॅर्म 450 मीटर का है।

बाजार तरफ स्टेशन के प्रवेश द्वार पर ट्रांसफार्मर लगा है। स्नान पर्व के दौरान अक्सर भीड़ निकलती है। हादसे की आशंका रहती है।

भास्कर ने बताई थी नियमों की गलती

रेलवे स्टेशन पर जागरूकता के लिए बनाई जा रही पेंटिंग्स में यात्रियों को ट्रेन के गेट पर लटकते दिखाया गया था। भास्कर ने इसे उजागर किया तो रेलवे ने उसे सुधरवाया।

होशंगाबाद स्टेशन पर नर्मदा स्नान और पचमढ़ी के लिए वीआईपी गेस्ट आते हैं। स्टेशन पर उन्हें आरपीएफ थाने में इंतजार करना पड़ता है। स्टेशन पर वीआईपी वेटिंग रूम नहीं है।

स्टेशन पर टू व्हीलर वाहनों की पार्किंग है। फोर व्हीलर की पार्किंग नहीं है।

दोपहर 1 बजे के बाद स्टेशन से भोपाल जाने और इटारसी, जबलपुर हरदा रूट पर कोई ट्रेन नहीं है।

टीन शेड छोटा है। जबकि प्लेटफाॅर्म 450 मीटर का है।

बाजार तरफ स्टेशन के प्रवेश द्वार पर ट्रांसफार्मर लगा है। स्नान पर्व के दौरान अक्सर भीड़ निकलती है। हादसे की आशंका रहती है।

होशंगाबाद स्टेशन पर नर्मदा स्नान और पचमढ़ी के लिए वीआईपी गेस्ट आते हैं। स्टेशन पर उन्हें आरपीएफ थाने में इंतजार करना पड़ता है। स्टेशन पर वीआईपी वेटिंग रूम नहीं है।

स्टेशन पर टू व्हीलर वाहनों की पार्किंग है। फोर व्हीलर की पार्किंग नहीं है।

दोपहर 1 बजे के बाद स्टेशन से भोपाल जाने और इटारसी, जबलपुर हरदा रूट पर कोई ट्रेन नहीं है।

टीन शेड छोटा है। जबकि प्लेटफाॅर्म 450 मीटर का है।

बाजार तरफ स्टेशन के प्रवेश द्वार पर ट्रांसफार्मर लगा है। स्नान पर्व के दौरान अक्सर भीड़ निकलती है। हादसे की आशंका रहती है।

गुजारिश...सुविधाएं बरकरार रहे

ग्वालटोली तरफ नहीं सामान्य टिकट विंडो

रेलवे ने प्लेटफॉर्म 1 पर आरक्षण केंद्र शिफ्ट किया। सामान्य टिकट बाजार तरफ ही मिल रही है। लंबे समय से ग्वालटोली तरफ सामान्य टिकट विंडो की मांग उठ रही है, जिसे रेलवे ने अनसुना किया। अभी भोपाल तरफ जाने वाले यात्रियों को टिकट के बाद ट्रेन पकड़ने में परेशानी होती है। ऐसे में कई यात्री पटरी क्रॉस करते हैं और दौड़ते हैं इससे हादसे की स्थिति बनती है।

होशंगाबाद स्टेशन पर नर्मदा स्नान और पचमढ़ी के लिए वीआईपी गेस्ट आते हैं। स्टेशन पर उन्हें आरपीएफ थाने में इंतजार करना पड़ता है। स्टेशन पर वीआईपी वेटिंग रूम नहीं है।

स्टेशन पर टू व्हीलर वाहनों की पार्किंग है। फोर व्हीलर की पार्किंग नहीं है।

दोपहर 1 बजे के बाद स्टेशन से भोपाल जाने और इटारसी, जबलपुर हरदा रूट पर कोई ट्रेन नहीं है।

टीन शेड छोटा है। जबकि प्लेटफाॅर्म 450 मीटर का है।

बाजार तरफ स्टेशन के प्रवेश द्वार पर ट्रांसफार्मर लगा है। स्नान पर्व के दौरान अक्सर भीड़ निकलती है। हादसे की आशंका रहती है।

होशंगाबाद स्टेशन पर नर्मदा स्नान और पचमढ़ी के लिए वीआईपी गेस्ट आते हैं। स्टेशन पर उन्हें आरपीएफ थाने में इंतजार करना पड़ता है। स्टेशन पर वीआईपी वेटिंग रूम नहीं है।

स्टेशन पर टू व्हीलर वाहनों की पार्किंग है। फोर व्हीलर की पार्किंग नहीं है।

दोपहर 1 बजे के बाद स्टेशन से भोपाल जाने और इटारसी, जबलपुर हरदा रूट पर कोई ट्रेन नहीं है।

टीन शेड छोटा है। जबकि प्लेटफाॅर्म 450 मीटर का है।

बाजार तरफ स्टेशन के प्रवेश द्वार पर ट्रांसफार्मर लगा है। स्नान पर्व के दौरान अक्सर भीड़ निकलती है। हादसे की आशंका रहती है।

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

More From Hoshangabad

    Trending

    Live Hindi News

    0

    कुछ ख़बरें रच देती हैं इतिहास। ऐसी खबरों को सबसे पहले जानने के लिए
    Allow पर क्लिक करें।

    ×