--Advertisement--

सरकार तो चाहती है कि नर्मदा बचे, मगर माफिया के आगे किसी की नहीं चलती

रेत माफियाओं ने डोंगरवाड़ा घाट और खर्रा घाट को निशाना बना रखा है।

Danik Bhaskar | Nov 25, 2017, 06:50 AM IST

होशंगाबाद. सरकार की सख्ती के बाद भी रेत माफियाओं के हौसले इतने बुलंद हैं कि नर्मदा किनारे से रोजाना अवैध रूप से रेत का उत्खनन कर रहे हैं। इसकी जानकारी प्रशासन अाैर खनिज अधिकारियों को भी है, उसके बाद भी कोई ठोस कार्रवाई नहीं हो रही। रेत माफियाओं ने डोंगरवाड़ा घाट और खर्रा घाट को निशाना बना रखा है।

- दोनों स्थानों पर बड़ी संख्या में ट्रैक्टर ट्रॉलियों के जरिये रेत का अवैध उत्खनन किया जा रहा है। इस रेत का स्टॉक भी नजदीक ही किया जा रहा है।

- खनिज विभाग इन स्टाकों पर कार्रवाई नहीं करता। तवा में वैध रेत खदान संचालकों के सख्त होने के बाद रेत माफिया अब नर्मदा के विभिन्न घाट क्षेत्रों से अवैध रेत उत्खनन कर रहे हैं।