बैतूल / कालाबाजारी के लिए ले जा रहे थे एक ट्रक खाद; कृषि विभाग की टीम ने 12 किमी तक पीछा कर पकड़ा

बैतूल में कालाबाजारी के लिए ले जा रहे खाद से भरे ट्रक को कृषि विभाग ने पकड़ा।
बैतूल में कृषि विभाग का दज, जिसने रात को 12 किमी तक पीछाकर खाद से भरे ट्रक को पकड़ा। बैतूल में कृषि विभाग का दज, जिसने रात को 12 किमी तक पीछाकर खाद से भरे ट्रक को पकड़ा।
पकड़ा गया ट्रक, जिसमें 200 बोरी यूरिया भरी हुई थी। पकड़ा गया ट्रक, जिसमें 200 बोरी यूरिया भरी हुई थी।
कृषि विभाग ने मुखबिर की सूचना के आधार पर खेतों से 39 बोरी खाद भी जब्त की। कृषि विभाग ने मुखबिर की सूचना के आधार पर खेतों से 39 बोरी खाद भी जब्त की।
X
बैतूल में कृषि विभाग का दज, जिसने रात को 12 किमी तक पीछाकर खाद से भरे ट्रक को पकड़ा।बैतूल में कृषि विभाग का दज, जिसने रात को 12 किमी तक पीछाकर खाद से भरे ट्रक को पकड़ा।
पकड़ा गया ट्रक, जिसमें 200 बोरी यूरिया भरी हुई थी।पकड़ा गया ट्रक, जिसमें 200 बोरी यूरिया भरी हुई थी।
कृषि विभाग ने मुखबिर की सूचना के आधार पर खेतों से 39 बोरी खाद भी जब्त की।कृषि विभाग ने मुखबिर की सूचना के आधार पर खेतों से 39 बोरी खाद भी जब्त की।

  • आज सुबह खेत में छिपाई गई 39 बोरी खाद भी पकड़ी गई, बैतूल में खाद की कालाबाजारी को रोकने के लिए कार्रवाई 

दैनिक भास्कर

Dec 21, 2019, 07:21 PM IST

विनोद पातरिया, बैतूल. इस सीजन में रबी की फसल के लिए किसानों को खाद के लिए घंटों कतार में लगना पड़ रहा है, कई जिलों में तो किसान के साथ उनके परिजन भी लाइन में लगे। जहां किसानों को खाद मिल नहीं पा रहा है, वहीं सरकार के तमाम दावों के बावजूद खाद की काला बाजारी रुक नहीं रही है। बैतूल में शुक्रवार रात को खाद से भरा एक ट्रक कृषि विभाग ने पकड़ लिया है। 

बताया जा रहा है कि कृषि विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों ने फिल्मी स्टाइल में आधी रात 12 किमी पीछा कर 200 बोरी यूरिया से भरा ट्रक पकड़ा। इसके बाद मुखबिरों से मिली सूचना पर अधिकारियों ने शनिवार को सुबह खेत में छिपाई गई 39 बोरी यूरिया भी जब्त की है। खाद के दलाल स्टाॅक करने की फिराक में थे, इसे लेकर कृषि विभाग की टीम की छापेमारी रात भर चली।

कृषि उप संचालक और उनकी टीम ने ब्लैक में बेचने के लिए परिवहन कर रहे खाद से भरे ट्रक को पकड़ा। बताया जा रहा है की इस खाद को दलालों और फुटकर व्यापारियों के जरिये महंगे दामों में किसानों को बेचने के लिए ले जाया जा रहा था। खाद की कालाबाजारी को रोकने के लिए बैतूल कलेक्टर तेजस्वी एस. नायक खुद सहकारी समितियों सहित निजी खाद विक्रेताओं पर पैनी नजर रखे हुए है। बेख़ौफ़ होकर किसानों को महंगे दामों में खाद विक्रय कर माल कमाने में लगा हुआ है।

500 रुपए में प्रति बोरी बिक रहा खाद 

जानकारी के मुताबिक खाद का काला कारोबार करने वाले कारोबारी किसानों को ब्लैक में 500 रूपए बोरी में खाद बेच रहे है। इस मामले की सूचना कृषि विभाग के अमले को मुखबिर से मिली थी। मंहगे दामों में बिकने के लिए आए यूरिया से भरा ट्रक जब्त कर बैतूल बाजार थाने में खड़ा किया है। 

12 किमी तक पीछा कर पकड़ा ट्रक 

 हमें जानकारी मिली थी कि रात्रि में कोलगाव में कुछ लोग ब्लैक मार्केटिंग के लिए खाद ला रहे हैं। इसी को आधार बनाकर रात में ही एक टीम गठित करके छापामार कार्रवाई के लिए  रवाना की गई। टीम को रात्रि 12 बजे एक ट्रक तेज गति से भागते हुए नजर आया। ट्रक के एक स्थान पर धीमे होने पर एक कर्मचारी दौड़कर ट्रक में लटक गया। तकरीबन 12 किलोमीटर तक टीम ने गाड़ी का पीछा कर उसे पकड़े ट्रक में 200 बोरी नर्मदा बॉयोकैम अहमदाबाद की कंपनी की खाद जब्त की गई है।
केपी भगत, उपसंचालक, कृषि विभाग

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना