होशंगाबाद / अमृत परियोजना फेल..? गर्मी में पानी देने के लिए नपा ने खुदवाया एक और नलकूप

Dainik Bhaskar

Mar 16, 2019, 01:31 PM IST


होशंगाबाद में एक और नलकूप लगवाया जा रहा है। (फाइल फोटो) होशंगाबाद में एक और नलकूप लगवाया जा रहा है। (फाइल फोटो)
X
होशंगाबाद में एक और नलकूप लगवाया जा रहा है। (फाइल फोटो)होशंगाबाद में एक और नलकूप लगवाया जा रहा है। (फाइल फोटो)
  • comment

  • सवाल-बगीचे में पानी देना था तो फिर बोरिंग क्यों? पार्क में पहले से ट्यूबवेल है, जिससे सिंचाई की जा सकती है

होशंगाबाद. अमृत परियोजना के तहत पूरे शहर में पानी सप्लाई करने में नाकाम नपा अब बोरिंग का सहारा लेने की फिराक में है। प्रशासन की रोक के बाद नपा सदर बाजार में चर्च के पास शहीद पार्क में बोरिंग करा रही है। शहीद पार्क में अमृत परियोजना की टंकी, पानी सप्लाई के लिए पंप हाउस और वॉटर चैंबर होने के बाद महज बगीचे की सिंचाई के लिए बोरिंग कराना चर्चाओं में है। नपा शहीद पार्क में बोरिंग कराकर एक और ट्यूबवेल बनाने की तैयारी में है। 

 

ये भी पढ़ें

Yeh bhi padhein

 

जलसंकट को देखते हुए कलेक्टर ने जिले में बोरिंग पर रोक लगाई है। सीएमओ पीके सिंह ने बताया बोरिंग प्रतिबंध के बीच ही हुई है। इससे शहीद पार्क में सिंचाईं की जाएगी। अमृत परियोजना से इसका कोई लेना-देना नहीं है। इधर कलेक्टर शीलेंद्र सिंह ने बताया बोरिंग पर रोक है, लेकिन विभाग इसे परमिशन लेकर करा सकते हैं। नपा ने भी ऐसा ही बोरिंग की है। 

 

मालाखेड़ी क्षेत्र में लोगों को नहीं मिले नल कनेक्शन 
अमृत की मुख्य पाइपलाइन से मालाखेड़ी क्षेत्र की पाइपलाइन नहीं जुड़ने के कारण यहां अमृत का पानी सप्लाई नहीं हो रहा है। लोगों का कहना है कि इस क्षेत्र के लोगों को नल कनेक्शन तक नहीं मिले हैं। हालांकि मालाखेड़ी क्षेत्र सहित अन्य क्षेत्र में पाइपलाइन डाली जा चुकी है। 

 

पार्क में है पानी का विकल्प, तो फिर क्यों कराई जा रही बोरिंग? 
शहीद पार्क में पहले ही टंकी व पंप हाउस है। बावजूद पार्क में सिंचाई के नाम पर 70 हजार रुपए से बोरिंग कराई जा रही है। इधर नपा अमृत परियोजना के तहत घर-घर नर्मदा जल नहीं पहुंचा पा रही है। ऐसा माना जा रहा है कि गर्मी में इस बोरिंग से पानी घर-घर पहुंचाया जाएगा। हालांकि नपा ने इससे इंकार किया है।

 

अमृत योजना का काम अभी अधूरा 
अभी तक सभी घरों में अमृत परियोजना का नर्मदा जल नहीं पहुंचा है। नपा ने अमृत पर करोड़ों रुपए खर्च किए हैं। कई जगह नल कनेक्शन नहीं दिए हैं। रामनगर में टंकी नहीं है। यहां एक साल तक पानी के पहुंचने की उम्मीद नहीं है। खोजनपुर के पास भी टंकी तैयार नहीं हुई है। मालाखेड़ी में पाइपलाइन डली है लेकिन मुख्य पाइपलाइन से नहीं जुड़ी है। 

 

नपा का बचाव करते हुए कहा- वैकल्पिक व्यवस्था के लिए बाेरिंग कराई है। आए दिन अमृत की लाइन फूट रही है, इसलिए दूसरी पाइप लाइन से पानी देने के लिए बोरिंग कराई है। ताकि गर्मी में लोगों को परेशानी न हो। -आरएस शुक्ला, जलकार्य शाखा प्रभारी, नपा 

COMMENT
Astrology
Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन